यूपी में कौन होगा भाजपा का अगला प्रदेश अध्यक्ष? यह दो नाम रेस में सबसे आगे

यूपी में कौन होगा भाजपा का अगला प्रदेश अध्यक्ष? यह दो नाम रेस में सबसे आगे

वर्तमान की बात करें तो प्रदेश अध्यक्ष की सूची में उन नामों की चर्चा सबसे ज्यादा है जिन्हें इस बार योगी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया है। इन नामों में दिनेश शर्मा, श्रीकांत शर्मा, सिद्धार्थ नाथ सिंह जैसे दिग्गजों के नाम है। हालांकि प्रदेश अध्यक्ष की रेस में अब भी सबसे आगे श्रीकांत शर्मा और दिनेश शर्मा का नाम चल रहा है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव खत्म हो चुके हैं। नतीजे भी आ गए हैं और नई सरकार ने शपथ भी ले लिया है। उत्तर प्रदेश में भाजपा ने एक बार फिर से शानदार प्रदर्शन करते हुए सत्ता में वापसी की है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में नई सरकार का गठन भी हो गया है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने भी मंत्री पद की शपथ ली है। स्वतंत्र देव सिंह के मंत्री बनने के साथ ही उत्तर प्रदेश में एक सवाल सबसे आम हो गया है। दरअसल, सवाल यह है कि आखिर उत्तर प्रदेश में भाजपा का अगला प्रदेश अध्यक्ष कौन होगा? भाजपा हमेशा एक व्यक्ति एक पद की बात करती है। यही कारण है कि अब नए प्रदेश अध्यक्ष की तलाश भी शुरू हो गई है।

इसे भी पढ़ें: UP विधानसभा में योगी आदित्यनाथ और अखिलेश यादव का हुआ सामना, गर्मजोशी के साथ दोनों ने मिलाया हाथ

वर्तमान की बात करें तो प्रदेश अध्यक्ष की सूची में उन नामों की चर्चा सबसे ज्यादा है जिन्हें इस बार योगी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया है। इन नामों में दिनेश शर्मा, श्रीकांत शर्मा, सिद्धार्थ नाथ सिंह जैसे दिग्गजों के नाम है। हालांकि प्रदेश अध्यक्ष की रेस में अब भी सबसे आगे श्रीकांत शर्मा और दिनेश शर्मा का नाम चल रहा है। जानकारी के मुताबिक के श्रीकांत शर्मा को प्रदेश अध्यक्ष बनाया जा सकता है। ऐसा दावा इसलिए भी किया जा रहा है क्योंकि श्रीकांत शर्मा को अमित शाह का बेहद करीबी माना जाता है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश में बिजली मंत्री के नाते उनका प्रदर्शन अच्छा रहा बावजूद इसके उन्हें मंत्री नहीं बनाया गया जिसके बाद उनके प्रदेश अध्यक्ष बनने की अटकलें तेज हो गई हैं।

इसे भी पढ़ें: योगी 2.0 मंत्रिमंडल: भाजपा की ये रणनीति बढ़ाएगी अखिलेश यादव की सीयासी मुश्किलें

इससे पहले योगी सरकार में उपमुख्यमंत्री रहे दिनेश शर्मा भी प्रदेश अध्यक्ष की रेस में आगे चल रहे हैं। जानकारी के मुताबिक दिनेश शर्मा को संगठन में काम करने का लंबा अनुभव है। इसके अलावा उप मुख्यमंत्री रहने के नाते उन्होंने प्रदेश के दौरे भी किए हैं। साथ ही साथ सरकार और संगठन में अच्छा तालमेल भी बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। यही कारण है कि दिनेश शर्मा का नाम भी प्रदेश अध्यक्ष की रेस में आगे चल रहा है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।