जनता से जुड़े मुद्दों से क्यों भाग रही है भाजपा-कांग्रेस प्रवक्ता दीपक शर्मा ने भाजपा के चुनाव प्रचार पर उठाए स्वाल

जनता से जुड़े मुद्दों से क्यों भाग रही है भाजपा-कांग्रेस प्रवक्ता दीपक शर्मा ने भाजपा के चुनाव प्रचार पर उठाए स्वाल

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि भाजपा इन विषयों पर जनता को बताए कि चार साल के कार्यकाल में जनहित के लिए क्या किया।महंगाई को रोकने के लिए क्या कदम उठाए।पेट्रोल-डीजल के दाम सौ रुपए प्रति लीटर हो गए हैं।कड़वा तेल 225 रुपए लीटर बिक रहा है।रसोई गैस सिलेंडर 1000 रुपए का हो गया लेकिन भाजपा का कहना है कि महंगाई नहीं है।यह सत्ता के नशे में चूर भाजपा की असंवेदनशीलता है।

शिमला प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ प्रवक्ता दीपक शर्मा ने भाजपा पर उपचुनावों के प्रचार में जनता से जुड़े मुद्दों से भागने का आरोप लगाया है।आज  उन्होंने कहा कि महंगाई,बेरोजगारी,कर्जमुक्त हिमाचल आज प्रदेश हित के सबसे बड़े मुद्दे हैं लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि भाजपा इन अहम विषयों से भाग कर गैरज़रूरी विषयों को तूल देकर जनता को गुमराह करने की फिराक में है।

 

इसे भी पढ़ें: राज्यपाल ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति को आगे बढ़ाने के हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय के प्रयासों की सराहना की

 

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि भाजपा इन विषयों पर जनता को बताए कि चार साल के कार्यकाल में जनहित के लिए क्या किया।महंगाई को रोकने के लिए क्या कदम उठाए।पेट्रोल-डीजल के दाम सौ रुपए प्रति लीटर हो गए हैं।कड़वा तेल 225 रुपए लीटर बिक रहा है।रसोई गैस सिलेंडर 1000 रुपए का हो गया लेकिन भाजपा का कहना है कि महंगाई नहीं है।यह सत्ता के नशे में चूर भाजपा की असंवेदनशीलता है।कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि बेरोजगारी के ज्वलन्त स्वाल पर सरकार ने क्या कदम उठाए और क्या नीति है,इस बारे में भाजपा नेता मौन क्यों धारण किए हुए हैं।कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि भाजपा जनता के बीच अपना दृष्टिकोण रखे ।इस तरह इन अहम विषयों से भागे नहीं।उन्होंने कहा कि जनतंत्र में यह स्वस्थ परम्परा नहीं है।चुनावी वैतरणी पार करने के लिए जनभावनाओं को भड़काना और ज्वलन्त जनसमस्याओं से मुंह फेरना भाजपा की पुरानी आदत है।

 

इसे भी पढ़ें: कन्हैया से ज्यादा हिमाचल कांग्रेस के नेताओं ने किया सेना का अपमान: जयराम ठाकुर

 

दीपक शर्मा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने कभी भी धर्म,जाति,क्षेत्रवाद,छद्म राष्ट्रवाद आदि विषयों पर चुनाव नहीं लड़ा।कांग्रेस ने जनहित की नीतियों-कार्यक्रमों को मुख्य एजेंडा बना कर ही चुनाव लड़ा।लेकिन भाजपा का इतिहास उठा कर देखें तो कभी मंदिर के नाम पर,कभी गौहत्या के नाम पर, कभी छद्म राष्ट्रवाद के नाम पर,कभी क्षेत्रवाद के नाम पर,कभी पुलवामा तो कभी कारगिल युद्ध के नाम पर चुनावों को प्रभावित किया।उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में विकास की नीतियों-कार्यक्रमों के ऊपर ही चुनाव लड़े जाने चाहिए।देश की सेना या फिर सांप्रदायिकता का ज़हर घोल कर जनभावनाओं को भड़का कर वोट प्राप्त नहीं करना चाहिए।

 

इसे भी पढ़ें: नवमी के दिन मां दुर्गा के सिद्धिदात्री स्वरुप की पूजा करते हैं

 

दीपक शर्मा ने कहा कि प्रदेश का प्रवुद्ध वोटर देख रहा है कि कौन जनहित की नीतियों-कार्यक्रमों-योजनाओं की बात कर रहा है और कौन वोट बैंक की राजनीति करके जनता को सांप्रदायिक तनाव पैदा कर वोट हासिल करने की फिराक में है।कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि प्रवुद्ध जनता लोकतंत्र की रक्षा एवम प्रदेश के विकास को अहम मानती है अतः आने वाले उपचुनावों में सही फ़ैसला देगी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।