बच्चे भारत के भविष्य, उनकी रक्षा करने के लिए सब कुछ करेंगे: PM मोदी

बच्चे भारत के भविष्य, उनकी रक्षा करने के लिए सब कुछ करेंगे: PM मोदी

पीएमओ ने कहा कि कोविड-19 के कारण माता-पिता को खोने वाले बच्चों को 18 वर्ष की उम्र तक पांच लाख रुपये का मुफ्त स्वास्थ्य बीमा मिलेगा, प्रीमियम का भुगतान पीएम केयर्स फंड से किया जायेगा।

कोरोना वायरस महामारी के कारण देश में कई बच्चों ने अपने माता पिता को खो दिया है। ऐसे बच्चों के लिए अब सरकार सामने आ रही है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा कि कोविड-19 के कारण अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों के लिए सरकार निशुल्क शिक्षा सुनिश्चित करेगी। प्रधानमंत्री कार्यालय ने आगे कहा कि कोविड-19 के कारण अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों को 18 वर्ष की उम्र के बाद मासिक भत्ता (स्टाइपेंड) मिलेगा, 23 साल के होने पर पीएम केयर्स फंड से दस लाख रुपये की निधि मिलेगी। कोविड-19 के कारण अपने अभिभावकों को खोने वाले बच्चों को उच्च शिक्षा ऋण के लिए सहायता दी जाएगी; पीएम केयर्स फंड से ब्याज मिलेगा।

पीएमओ ने कहा कि कोविड-19 के कारण माता-पिता को खोने वाले बच्चों को 18 वर्ष की उम्र तक पांच लाख रुपये का मुफ्त स्वास्थ्य बीमा मिलेगा, प्रीमियम का भुगतान पीएम केयर्स फंड से किया जायेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि बच्चे भारत के भविष्य का प्रतिनिधित्व करते हैं; हम उनका समर्थन करने, उनकी रक्षा करने के लिए सब कुछ करेंगे। नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि समाज के रूप में यह हमारा कर्तव्य है कि हम अपने बच्चों की देखभाल करें और उज्ज्वल भविष्य की उम्मीद करें।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।