किसान महापंचायत में बोले राकेश टिकैत, दिल्ली में फिर घुसना पड़ेगा और बैरिकेड तोड़ने होंगे

Rakesh Tikait
भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि हम कहीं पर बेच के दिखाएंगे, मंडी के बाहर बेच कर दिखाएंगे, जो भारत सरकार का रेट है उस पर बेचकर दिखाएंगे। संसद में बेचकर दिखाएंगे। संसद से अच्छी मंडी नहीं हो सकती है।

जयपुर। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने मंगलवार को किसान महापंचायत को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पहले इन्होंने जाति में बांटा, धर्म में बांटा लेकिन अब हम किसान भाई बंटने वाले नहीं हैं। इस दौरान किसान नेता राकेश टिकैत ने किसानों से अपील की कि आप अपने टैक्टर लेकर, जब आपको बताया जाए दिल्ली चलना पड़ेगा। दिल्ली की बैरिकेडिंग फिर तोड़नी पड़ेगी। अपनी फसल को विधानसभा, कलेक्ट्रेट और संसद में फसल बेचनी पड़ेगी। प्रधानमंत्री ने कहा था कि कहीं पर भी आप अपनी फसल बेच सकते हो।  

इसे भी पढ़ें: आंदोलनकारी किसानों को भी लगनी चाहिए वैक्सीन, हम आंदोलन को समाप्त नहीं होने देंगे: राकेश टिकैत 

उन्होंने कहा कि हम कहीं पर बेच के दिखाएंगे, मंडी के बाहर बेच कर दिखाएंगे, जो भारत सरकार का रेट है उस पर बेचकर दिखाएंगे। संसद में बेचकर दिखाएंगे। संसद से अच्छी मंडी नहीं हो सकती है। 3.5 लाख ट्रैक्टर दिल्ली में पहले गए थे और फिर से ट्रैक्टर जाएंगे। उन्होंने किसानों से कहा कि जिस दिन संयुक्त मोर्चा तारीख देगा, आपकी जिम्मेदारी होगी कि राजस्थान की तरफ से आप दिल्ली को घेरो। दिल्ली घिर चुकी है। पूरे देश में आंदोलन शुरू हो चुका है। आपको जागना पड़ेगा। 

इसे भी पढ़ें: सरकार और भाजपा भरोसे के लायक नहीं, लंबे समय तक चलेगा किसान आंदोलन: नरेश टिकैत 

उल्लेखनीय है कि केंद्र के तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन नवंबर मध्य से जारी है। किसान संगठनों की मांग है कि मोदी सरकार तीनों कानूनों को वापस लें और न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) कानून बनाएं। 

अन्य न्यूज़