तमिलनाडु में कोरोना से अब तक 7.09 लाख व्यक्ति हुए संक्रमित, मृतकों की संख्या बढ़कर 10,924 हुई

Coronavirus
स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि संक्रमण मुक्त होने वाले मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है और रविवार को विभिन्न स्वास्थ्य देखभाल केन्द्रों से 4,019 मरीजों को छुट्टी दी गई।

चेन्नई। तमिलनाडु में कोरोना वायरस के नये मामलों में रविवार को भी गिरावट जारी रही और 2,869 नये मरीज सामने आये। इसके साथ ही राज्य में कोविड-19 के मामले 7.09 लाख हो गये हैं। स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि इस अवधि में 31 लोगों की इस संक्रमण से मौत हुई है जिन्हें मिलाकर राज्य में अब तक इस महामारी से 10,924 लोगों की मौत हो चुकी है। राज्य में पिछले कुछ सप्ताह से कोविड-19 के मामलों में गिरावट आ रही है। शनिवार को भी राज्य को कोविड-19 के 3,000 से कम (2,886) मामले आये थे। 

इसे भी पढ़ें: सिद्धारमैया की मांग, बाढ़ की स्थिति पर चर्चा के लिए बुलाया जाए विशेष विधानसभा सत्र 

स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि संक्रमण मुक्त होने वाले मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है और रविवार को विभिन्न स्वास्थ्य देखभाल केन्द्रों से 4,019 मरीजों को छुट्टी दी गई। इसके साथ ही राज्य में अब तक 6.67 लाख लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। फिलहाल 30,606 मरीज उपाचाराधीन हैं। विभाग के अनुसार रविवार को 80,690 नमूनों की जांच की गई। इसी के साथ अब तक राज्य में कुल 95.17 लाख नमूनों की जांच की गई है। तमिलनाडु में अब तक सामने आए कुल 7.09 लाख मामलों में अकेले राजधानी चेन्नई के 1,95,672 मामले हैं। उनमें 764 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि रविवार को हुई। 

इसे भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री प्रताप सारंगी का दावा, देश के सभी नागरिकों को कोरोना वैक्सीन मुफ्त में कराई जाएगी उपलब्ध 

बुलेटिन के मुताबिक कोयंबटूर में 271, सेलम में 196, तिरुवल्लु में 161, चेंगलपेट में 155, कांचीपुरम में 120 और तिरुपुर में 112 नये मरीज सामने आए हैं। बुलेटिन के मुताबिक जिन 31 लोगों की रविवार को मौत हुई, उनमें से केवल एक को कोई अन्य गंभीर बीमारी नहीं थी। उनमें 26 लोग 60 साल से अधिक उम्र के थे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़