भाजपा के केंद्र व प्रदेश में सभी वर्गों के समग्र विकास के लिए काम किया : जम्वाल

भाजपा के केंद्र व प्रदेश में सभी वर्गों के समग्र विकास के लिए काम किया  : जम्वाल

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने आयुष्मान भारत योजना के तहत करीब 55 करोड़ गरीबों को 5 लाख रुपये सालाना का हेल्थ कवरेज दिया है। पहले किसी गरीब के परिजन को कैंसर हो जाए तो उनकी जमीन तक बिक जाती थी, इलाज के लिए पैसे नहीं होते थे। वही हमारी प्रदेश सरकार ने हिम केअर योजना में प्रदेश के 96382 लोगों को 85 करोड़ का लाभ प्रदान किया है।

शिमला।   भाजपा महामंत्री त्रिलोक जम्वाल ने कहा कि कांग्रेस नेताओं द्वारा लगाए जा रहे सभी आरोप निराधार और तथ्य से परे है।  उन्होंने कहा कि भाजपा ने चुनावों को चुनावों की तरह लड़ा और किसी भी प्रकार से चुनावों को प्रभावित करने का प्रयास नहीं किया, जिस प्रकार की बयानबाजी कांग्रेस के नेता कर रहे है उससे यह लगता है कि कांग्रेस को अभी भी अपनी जीत का विश्वास नहीं हो रहा। यह जीत कांग्रेस के लिए अकस्मात जीत , कांग्रेस के नेताओं को खुद नही लग रहा था कि वह जीत हासिल करने जा रहे है। 

 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस जन जागरण अभियान चलाने जा रही है, जनता उन्हों स्वयं स्पष्ट कर देगी की कौनसी सरकार जनता के हित की बात करती है। आज कांग्रेस के नेताओं में नेतृत्व की होड़ लगी है वह खुद अपने नेता का चयन नहीं कर पा रहे है।

उन्होंने कहा कि हम साफ शब्दों में कहते है कि 2022 में भाजपा की मज़बूत सरकार हिमाचल प्रदेश में बनने जा रही है, भाजपा के केंद्र व प्रदेश में सभी वर्गों के समग्र विकास के लिए काम किया है। हर वर्ग के लिए नीति और योजनाओं का निर्माण किया गया है। कांग्रेस केवल 2022 में सरकार बनाने का सपना देख रही है। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा ने सोशल मीडिया एवं आई टी विभाग के प्रदेश संयोजक किए नियुक्त

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने आयुष्मान भारत योजना के तहत करीब 55 करोड़ गरीबों को 5 लाख रुपये सालाना का हेल्थ कवरेज दिया है। पहले किसी गरीब के परिजन को कैंसर हो जाए तो उनकी जमीन तक बिक जाती थी, इलाज के लिए पैसे नहीं होते थे। वही हमारी प्रदेश सरकार ने हिम केअर योजना में प्रदेश के 96382 लोगों को 85 करोड़ का लाभ प्रदान किया है। 

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री ने वर्चुअल माध्यम से अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारियों के सम्मेलन को संबोधित किया

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने 70 साल में सिर्फ वोट लेने के अलावा कुछ नहीं किया। लोगों को मजबूत करने की कोई कोशिश नहीं की।  अगर कांग्रेस ने ऐसा किया होता, तो 2014 में आने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को करीब 10 करोड़ महिलाओं को इज्जत घर (शौचालय) नहीं देने पड़ते।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।