योगी सरकार का ऐलान, कोरोना से जान गंवाने वाले पत्रकारों के परिवारों को 10 लाख की दी जाएगी सहायता राशि

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 31, 2021   08:20
योगी सरकार का ऐलान, कोरोना से जान गंवाने वाले  पत्रकारों के परिवारों को 10 लाख की दी जाएगी सहायता राशि

पत्रकारों को प्रोत्साहित करने और उनके अथक एवं असमानांतर योगदान को सम्मानित करने के प्रयास के तहत उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 संक्रमण से जान गंवाने वाले खबरनवीसों के परिवारों के लिए 10 लाख रूपये की वित्तीय सहायता की घोषणा की।

लखनऊ। पत्रकारों को प्रोत्साहित करने और उनके अथक एवं असमानांतर योगदान को सम्मानित करने के प्रयास के तहत उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 संक्रमण से जान गंवाने वाले खबरनवीसों के परिवारों के लिए 10 लाख रूपये की वित्तीय सहायता की घोषणा की। ‘हिंदी पत्रकारिता दिवस’ के मौके पर आदित्यनाथ न कहा, ‘‘ आजादी के आंदोलन से लेकर आज तक हिंदी पत्रकारिता का सामाजिक जनजागरण एवं राष्ट्र निर्माण में अप्रत्याशित योगदान रहा है।

इसे भी पढ़ें: बाघिन टी-4 ने दिया पांच शावकों की जन्म, शावकों से गुलजार हुआ पेंच नेशनल पार्क

हिंदी पत्रकारिता दिवस पर सभी पत्रकारों को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं।’’ उन्होंने कहा कि सरकार पत्रकारों को सभी सहायता प्रदान करने के लिए कटिबद्ध है और वह उन्हें प्रोत्साहित करती रहेगी। पत्रकारों के प्रयासों की तारीफ करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा , ‘‘ ऐसे चुनौतीपूर्ण और कठिन दौर के दौरान सभी पत्रकारों एवं मीडियाकर्मियों ने प्रासंगिक और प्रामाणिक सूचनाएं हमतक लाने में अपनी जान जोखिम में डाली। उन्होंने 24 घंटे काम किया जो प्रशंसनीय है।’’

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में रविवार को कोरोना संक्रमण के 1476 नये मामले, 60 लोगों की मौत

उत्तर प्रदेश सरकार ने कहा कि महामारी की दूसरी लहर के दौरान देशभर में कई पत्रकार संक्रमित हो गये और अपनी जान गंवा बैठे,ऐसे में उनका परिवार असहाय हो गया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।