UP Election 2022: योगी का तंज- वो हज हाउस लाए थे, हम रामलला का मंदिर लाए हैं

Yogi Adityanath
अंकित सिंह । Jan 27, 2022 6:44PM
योगी ने कहा कि फर्क साफ है, हमारी सरकार में बहन-बेटियों की सुरक्षा, किसानों की खुशहाली, नौजवानों को रोजगार मिल रहा है और उनकी सरकार में दंगा होता था, माफिया, गुंडे अराजकता करते थे। उन्होंने कहा कि आज सपा, बसपा और कांग्रेस को पीड़ा है क्योंकि माफियाओं के प्रति उनकी संवेदना थी जब माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई होती है तो उनको पीड़ा होती है। उनकी संवेदना गांव और गरीब के लिए नहीं थी।

उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर प्रचार तेज हो गया है। राजनीतिक दल चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों को पालन करते हुए लगातार चुनाव प्रचार कर रहे हैं। इसी कड़ी में आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश में थे। अपने बिजनौर दौरे के दौरान सबसे पहले योगी आदित्यनाथ ने जिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया। इसके बाद उन्होंने मतदाता संवाद कार्यक्रम भी किया। अपने मतदाता संवाद कार्यक्रम में योगी आदित्यनाथ ने सरकार के कामकाज को गिनाए और अखिलेश यादव पर जमकर निशाना भी साधा। योगी आदित्यनाथ ट्विटर के जरिए भी लगातार अखिलेश यादव पर निशाना साध रहे हैं। योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट में कहा कि जनता-जनार्दन साक्षी है... वे 'तुष्टीकरण' करते हैं, हम 'अंत्योदय' कर रहे हैं। वे 'परिवारवाद' करते हैं, हम 'राष्ट्रवाद' की अलख जगा रहे हैं। वे रामभक्तों पर गोली चलवाते हैं, हम प्रभु श्री राम का भव्य मंदिर बनवा रहे हैं।

एक और ट्वीट में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आप सब साक्षी हैं...वे अंधेरा लाए थे, हम उजाला लाए। वे गुंडाराज लाए थे, हम कानून का राज लाए। वे अवैध तमंचों की फैक्ट्री लगवाते थे, हम डिफेंस कॉरिडोर लाए। वो हज हाउस लाए थे, हम रामलला का मंदिर लाए हैं। अपने संवाद में योगी ने कहा कि फर्क साफ है, हमारी सरकार में बहन-बेटियों की सुरक्षा, किसानों की खुशहाली, नौजवानों को रोजगार मिल रहा है और उनकी सरकार में दंगा होता था, माफिया, गुंडे अराजकता करते थे। उन्होंने कहा कि आज सपा, बसपा और कांग्रेस को पीड़ा है क्योंकि माफियाओं के प्रति उनकी संवेदना थी जब माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई होती है तो उनको पीड़ा होती है। उनकी संवेदना गांव और गरीब के लिए नहीं थी।

इसे भी पढ़ें: UP Election 2022: राजनाथ बोले- मुझसे ज्यादा योग्य सीएम हैं योगी, चौधरी चरण सिंह पर कही यह बात

इसके साथ ही योगी आदित्यनाथ ने बिजनौर के धामपुर विधानसभा सीट में घर-घर जाकर चुनाव प्रचार किया। उन्होंने कहा कि कोविड से लड़ने के लिए प्रदेश में 72,000 निगरानी समितियां हैं जिसमे से 1,500 निगरानी समितियां बिजनौर में क्रियाशील हैं। ऑक्सीजन की कमी से लड़ने के लिए ऑक्सीजन स्पेशल ट्रेनें और एयर फोर्स के विमानों द्वारा ऑक्सीजन की आपूर्ती की गई थी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 98% से अधिक लोगों को वैक्सीन उपलब्ध कराई गई है। बिजनौर में 43.28 लाख डोज़ उपलब्ध कराई जा चुकी हैं। बिजनौर में लगभग 97% लोगों को पहली और 64% लोगों को दूसरी डोज दी गई है। 15-17 आयु वर्ग के लगभग 53% बच्चों को पहली डोज दी गई है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़