केन विलियमसन ने ‘ओवरथ्रो’ पर कहा, उम्मीद करते है इस तरह के पलों में ऐसी घटना फिर नहीं होगी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 15 2019 11:50AM
केन विलियमसन ने ‘ओवरथ्रो’ पर कहा, उम्मीद करते है इस तरह के पलों में ऐसी घटना फिर नहीं होगी
Image Source: Google

इंग्लैंड के हाथों विश्व कप फाइनल में मिली हार से दुखी न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने दुर्भाग्यपूर्ण ‘ओवरथ्रो’ पर मलाल जताते हुए कहा कि वह उम्मीद करते हैं कि इस तरह के पलों में ऐसी घटना फिर नहीं होगी।

लंदन। इंग्लैंड के हाथों विश्व कप फाइनल में मिली हार से दुखी न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने दुर्भाग्यपूर्ण ‘ओवरथ्रो’ पर मलाल जताते हुए कहा कि वह उम्मीद करते हैं कि इस तरह के पलों में ऐसी घटना फिर नहीं होगी। नाटकीयता से भरे फाइनल में आखिरी ओवर में इंग्लैंड को तीन गेंद में नौ रन चाहिये थे जब बेन स्टोक्स ने डीप में ट्रेंट बोल्ट को शॉट लगाया। मार्टिन गुप्टिल का रिटर्न थ्रो रन दौड़ रहे स्टोक्स के बल्ले से टकराकर सीमारेखा पर चार रन के लिये चला गया।



विलियमसन ने कहा कि यह शर्मनाक था कि गेंद स्टोक्स के बल्ले से टकरा गई। उम्मीद करता हूं कि भविष्य में ऐसा फिर कभी नहीं होगा। इस तरह के मैच में कभी नहीं। उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड टीम ने काफी दिलेरी से प्रदर्शन करके फाइनल में जगह बनाई लेकिन शायद जीत हमारी किस्मत में नहीं थी। खिलाड़ी बहुत निराश हैं ।इस तरह की हार पचाना मुश्किल है। प्लेयर आफ द टूर्नामेंट चुने गए विलियमसन ने कहा कि उनकी टीम कुछ रन पीछे रह गई। उन्होंने कहा कि हमें 10 . 20 रन और बनाने चाहिये थे। गेंदबाजों ने बल्लेबाजों को दबाव में रखा । यह शानदार मैच था और आखिरी तक दोनों टीमें मैच में थी। इंग्लैंड को शानदार प्रदर्शन के लिये बधाई।

इसे भी पढ़ें: ICC के नियमों पर भड़के गौतम गंभीर, बोले- बाउंड्री के आधार पर कैसे हो सकता है फैसला

इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने कहा कि न्यूजीलैंड की पूरी टीम बधाई की पात्र है। उन्होंने शानदार खेल दिखाया। उन्होंने बेन स्टोक्स और जोस बटलर की तारीफ करते हुए कहा कि कठिन विकेट पर रन बनाने मुश्किल थे लेकिन इन दोनों ने शतकीय साझेदारी की। यह चार साल का सफर था और आखिर में जीत दर्ज करके इसकी परिणिति सुखद हुई। उन्होंने कहा कि पूरा श्रेय बटलर और स्टोक्स को जाता है। सुपर ओवर में आर्चर ने उम्दा गेंदबाजी की। मैं सभी खिलाड़ियों को डेविड विली, सैम बिलिंग्स और जो टीम में जगह नहीं बना सके, सभी को बधाई देता हूं।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video