IOC ने मुक्केबाजी संघ एआईबीए से ओलंपिक दर्जा छीना

ioc-retains-olympic-status-from-boxing-association-aiba
एआईबीए चुनाव में अध्यक्ष गाफूर राखिमोव के चुने जाने के बाद पिछले साल आईओसी को मुक्केबाजी के संचालन, कर्जे और ओलंपिक बाउट की प्रमाणिकता की जांच के लिये बाध्य कर दिया।

लुसाने। आईओसी ने बुधवार को विवादों से घिरे मुक्केबाजी संघ एआईबीए से ओलंपिक दर्जा छीन लिया और अब 2020 तोक्यो ओलंपिक के लिये क्वालीफाइंग और फाइनल टूर्नामेंट का आयोजन करेगा। ओलंपिक जांच पैनल के चेयरमैन नेनाद लालोविच ने कहा कि एआईबीए ने आईओसी और इसके अमेरिकी हितधारकों के लिए ‘‘बहुत गंभीर प्रतिष्ठा संबंधित, कानूनी और वित्तीय जोखिम’’ खड़े कर दिये। 

इसे भी पढ़ें: भारतीय महिला मुक्केबाजों ने जर्मनी जूनियर टूर्नामेंट में 5 स्वर्ण पदक अपने नाम किए

एआईबीए चुनाव में अध्यक्ष गाफूर राखिमोव के चुने जाने के बाद पिछले साल आईओसी को मुक्केबाजी के संचालन, कर्जे और ओलंपिक बाउट की प्रमाणिकता की जांच के लिये बाध्य कर दिया। 

इसे भी पढ़ें: मुक्केबाज नीरज की आमिर से होगी भिड़ंत, बोले- पाक पर भारत की जीत से प्रेरणा लूंगा

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के सदस्यों ने पिछले महीने कार्यकारी बोर्ड की सिफारिशों का समर्थन करते हुए एआईबीए का ओलंपिक दर्जा छीनने के हक में मत दिया। एआईबीए ने कहा था कि वह दीवालिया होने की कगार पर है और इस पर 17 लाख डालर के करीब जुर्माना है। इसे भविष्य में तोक्यो राजस्व से भी हटा दिया गया है और रूस में होने वाली पुरूषों और महिलाओं की 2019 विश्व चैम्पियनशिप अब ओलंपिक क्वालीफायर भी नहीं है। एआईबीए की आपात बैठक जिनीवा में होगी जिसमें आईओसी का दल शिरकत करेगा। 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़