नामीबिया ने पहली बार टी-20 विश्व कप के लिए क्वालीफाई किया, नीदरलैंड की भी एंट्री

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अक्टूबर 30, 2019   12:46
  • Like
नामीबिया ने पहली बार टी-20 विश्व कप के लिए क्वालीफाई किया, नीदरलैंड की भी एंट्री

टी20 विश्व कप 2016 में हिस्सा लेने वाली ओमान की टीम इस लक्ष्य के जवाब में 107 रन पर सिमट गयी। नामीबिया ने 2003 में 50 ओवर के विश्व कप में अपने सभी छह मैच गंवा दिये थे।

दुबई। नामीबिया ने यहां आईसीसी टी20 विश्व कप क्वालीफायर में ओमान को हराकर पहली बार, अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाई किया जिसमें नीदरलैंड भी जगह बनाने में सफल रहा। ऑल राउंडर जेजे स्मिट ने महज 25 गेंद में 59 रन की शानदार पारी खेली जिसके बूते नामीबिया ने ओमान को 54 रन से शिकस्त देकर अक्टूबर 2020 में ऑस्ट्रेलिया में होने वाले विश्व कप की आठ टीमों के पहले दौर के लिये स्थान सुनिश्चित किया। 

इसे भी पढ़ें: IPL 2018 के भ्रष्टाचार से जुड़े मामले ICC देख रही थी: बीसीसीआई एसीयू प्रमुख

नामीबिया ने बल्लेबाजी का फैसला कर सात विकेट पर 161 रन का स्कोर खड़ा किया जिसमें स्मिट ने अपनी पारी के दौरान पांच छक्के जड़े जबकि क्रेग विलियम्स ने भी 45 रन की पारी खेली। टी20 विश्व कप 2016 में हिस्सा लेने वाली ओमान की टीम इस लक्ष्य के जवाब में 107 रन पर सिमट गयी। नामीबिया ने 2003 में 50 ओवर के विश्व कप में अपने सभी छह मैच गंवा दिये थे। अब टीम प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में पापुआ न्यू गिनी से भिड़ेगी जबकि ओमान अब भी क्वालीफाई कर सकता है, अगर प्लेआफ में वह हांगकांग को हरा दे। 

इसे भी पढ़ें: कोलकाता में भारत खेलेगी पहला दिन-रात्रि टेस्ट, जानिए कब शुरू होगा मैच और टिकट के रेट

इससे पहले नीदरलैंड ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) को आठ विकेट से मात देकर आस्ट्रेलिया का टिकट कटाया। आयरलैंड पर जीत से शुरूआत करने वाली यूएई की टीम निर्धारित 20 ओवर में नौ विकेट पर केवल 80 रन ही बना सकी। इसके बाद नीदरलैंड ने 29 गेंद रहते यह लक्ष्य हासिल कर लिया। नीदरलैंड की टीम सेमीफाइनल में आयरलैंड के सामने होगी जो पहले ही क्वालीफाई कर चुकी है। वहीं यूएई के पास भी क्वालीफाई करने का अंतिम मौका है जिसमें टीम को स्काटलैंड को मात देनी होगी। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




महिला फुटबॉल के विकास के लिए FIFA ने लॉन्च किया यह प्रोग्राम

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 8, 2021   18:17
  • Like
महिला फुटबॉल के विकास के लिए FIFA ने लॉन्च किया यह प्रोग्राम

फीफा अंडर17 महिला विश्व कप 2022 के एलओसी ने कोच शिक्षा छात्रवृति कार्यक्रम शुरू किया।इसे महाराष्ट्र सरकार और पश्चिमी भारत फुटबॉल संघ (डब्ल्यूआईएफए) के साथ मिलकर पणे, ठाणे, नागपुर और कोल्हापुर में आयोजित किया जाएगा।’’

मुंबई। अंडर17 महिला फुटबॉल विश्व कप 2022 की स्थानीय आयोजन समिति (एलओसी) ने यहां महिला फुटबॉल के विकास के लिए फीफा की मदद से कोच शिक्षा छात्रवृति कार्यक्रम शुरू किया। इस ई-लाईसेंस कोर्स में उभरती हुई 21 कोचों को सभी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए खेल के सैद्धांतिक और व्यावहारिक दोनों तरह से प्रशिक्षित किया गया। यहां जारी विज्ञप्ति के मुताबिक , ‘‘यह कार्यक्रम कोच शिक्षा कार्यक्रम की शुरुआत को दर्शाता है जिसे महाराष्ट्र के अन्य जिलों में आगे बढ़ाया जाएगा। इसे महाराष्ट्र सरकार और पश्चिमी भारत फुटबॉल संघ (डब्ल्यूआईएफए) के साथ मिलकर पणे, ठाणे, नागपुर और कोल्हापुर में आयोजित किया जाएगा।’’

इसे भी पढ़ें: रोजर फेडरर को पछाड़कर नोवाक जोकोविच ने ATP रैकिंग में सबसे अधिक समय तक टॉप पर रहने का बनाया रिकॉर्ड

फीफा अंडर-17 महिला विश्व कप भारत 2022 और एएफसी (एशियाई फुटबॉल परिसंघ) महिला एशियाई कप भारत 2022 के एलओसी की टूर्नामेंट निदेशक रोमा खन्ना ने कहा, ‘‘ यह हमारे लिए महत्वपूर्ण है कि टूर्नामेंट की मेजबानी करने से स्थानीय समुदाय को लाभ हो सके और आज का कार्यक्रम एक नई शुरुआत का संकेत है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जमीनी स्तर पर अधिक महिला कोचों की मौजूदगी से अधिक युवा लड़कियां और महिलाएं इस खेल से जुड़ेगी।’’ भारतीय महिला फुटबॉल टीम की मुख्य कोच मेमोल रॉकी ने कहा, ‘‘ पिछले वर्षों की तुलना में अब हर श्रेणी में अधिक महिला कोचों को देखना वास्तव में उत्साहजनक है। मुझे यकीन है कि यह भविष्य में भी बढ़ेगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




रोजर फेडरर को पछाड़कर नोवाक जोकोविच ने ATP रैकिंग में सबसे अधिक समय तक टॉप पर रहने का बनाया रिकॉर्ड

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 8, 2021   17:10
  • Like
रोजर फेडरर को पछाड़कर नोवाक जोकोविच ने ATP रैकिंग में सबसे अधिक समय तक टॉप पर रहने का बनाया रिकॉर्ड

टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने एटीपी रैंकिंग में सबसे अधिक समय तक शीर्ष पर रहने का रिकॉर्ड बनाया है।एटीपी मास्टर्स 1000 की रिकार्ड 36 ट्रॉफिया जीतने वाले जोकोविच पहली बार चार जुलाई 2011 को रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचे थे।

नयी दिल्ली। हाल ही में अपना नौवां ऑस्ट्रेलियाई ओपन और 18वां ग्रैंडस्लैम का खिताब जीतने वाले टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने दिग्गज रोजर फेडरर को पछाड़कर एटीपी रैंकिंग में सबसे अधिक समय तक शीर्ष पर रहने का रिकार्ड अपने नाम किया। एटीपी की ताजा रैंकिंग में जोकोविच शीर्ष पर है जिससे वह कुल 311वें सप्ताह में शीर्ष पर बनें हुए है जबकि फेडरर 310 सप्ताह तक शीर्ष पर रहे थे। एटीपी से जारी विज्ञप्ति में उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे यह वास्तव में दिग्गजों के रास्ते पर चलने के लिए उत्साहित करता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ यह जानना बहुत ही शानदार है कि मैंने अपने बचपन के सपने को उनके बीच रहते हुए पूरा किया। इस उपलब्धि से यह भी पुष्टि होती है कि जब आप लगन और जुनून से कुछ करते है, तो सब कुछ संभव है।’’

इसे भी पढ़ें: PCB रख रहा कोरोना का ध्यान, इन दो दौरों के लिए 30 सदस्यीय टीम भेजने की बना रहा योजना

एटीपी मास्टर्स 1000 की रिकार्ड 36 ट्रॉफिया जीतने वाले जोकोविच पहली बार चार जुलाई 2011 को रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचे थे। वह इसके बाद पांच अलग अलग समय पर रैंकिंग में पहले स्थान पर काबिज रहे। फेडरर ने 16 जुलाई 2012 को पीट सम्प्रास के 286 सप्ताह तक रैंकिंग में शीर्ष पर रहने का रिकार्ड को तोड़ा था। तैंतीस साल के जोकोविच 21 मई 2018 को रैंकिंग में 22वें स्थान पर खिसक गये थे लेकिन इसी साल (2018) पांच नवंबर को उन्होंने शीर्ष पायदान पर अपनी वापसी की थी। उन्होंने पिछला साल रिकार्ड की बराबरी करते हुए छठी बार रैंकिग में शीर्ष पर रहते हुए खत्म किया था। इस मामले में उन्होंने सम्प्रास की बराबरी की थी। फेडरर,राफेल नडाल और जिमी कोनोर्स ने पांच-पांच बार शीर्ष पर रहते हुए साल खत्म किया है। जोकोविच पिछले साल फरवरी में पांचवीं बार रैंकिंग में शीर्ष पर पहुंचे थे और तब से इसी स्थान पर काबिज है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




दूसरी बार घुटने के ऑपरेशन से पहले निराश थे रोजर फेडरर!

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 8, 2021   15:28
  • Like
दूसरी बार घुटने के ऑपरेशन से पहले निराश थे रोजर फेडरर!

दूसरी बार घुटने के ऑपरेशन को लेकर रोजर फेडरर काफी निराश थे।उन्होंने कहा, ‘‘मैं जानता हूं कि एक लगभग 40 साल के व्यक्ति के लिये एक साल तक बाहर रहने के बाद वापसी करना मुश्किल होता है। मुझे हैरानी है कि इसमें इतना समय लगा लेकिन मैंने अपनी टीम के साथ मिलकर मैं समय लेना चाहता हूं।

दोहा। रोजर फेडरर ने एक साल से भी अधिक समय तक प्रतिस्पर्धी टेनिस से दूर रहने पर कभी संन्यास लेने के बारे में गंभीरता से विचार नहीं किया लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि दायें घुटने के दूसरे ऑपरेशन से पहले वह निराश थे। कतर ओपन में भाग लेने के लिये यहां पहुंच रखे फेडरर ने कहा, ‘‘मैं निराश था। निश्चित तौर पर मुझे विश्वास नहीं था कि मुझे दूसरा ऑपरेशन करवाना पड़ेगा। यह ऐसा क्षण होता है जहां आपके दिमाग में कुछ सवाल पैदा हो सकते हैं। ’’ यह 39 वर्षीय खिलाड़ी आस्ट्रेलियाई ओपन 2020 के बाद अपना पहला मैच दोहा में बुधवार को डैन इवान्स या जेरेमी चार्डी के बीच खेलेगा। फेडरर ने अपने दायें घुटने का पहला आपरेशन फरवरी 2020 में किया था। अपने चार बच्चों के साथ घूमने या मोटर साइकिल पर कहीं जाने से घुटने में सूजन आ जाती जिसके बाद जून में उन्होंने घोषणा की थी कि उन्हें दूसरी बार ऑपरेशन करवाना पड़ा।

इसे भी पढ़ें: ICC का बड़ा ऐलान, महिला टी20 विश्व कप में 10 की बजाय 12 टीमें लेंगी भाग

बीस बार के ग्रैंडस्लैम चैंपियन फेडरर अगले कुछ महीनों में अपनी प्रगति पर निगरानी रखकर फिर चीजों का आकलन करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘मैं जानता हूं कि एक लगभग 40 साल के व्यक्ति के लिये एक साल तक बाहर रहने के बाद वापसी करना मुश्किल होता है। मुझे हैरानी है कि इसमें इतना समय लगा लेकिन मैंने अपनी टीम के साथ मिलकर पहले ही फैसला कर दिया था मैं समय लेना चाहता हूं। टूर में वापसी के लिये किसी तरह की जल्दबाजी नहीं करना चाहता हूं। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘महत्वपूर्ण यह है कि मैं चोटमुक्त और दर्दमुक्त रहूं और तभी मैं वास्तव में टूर में अपने खेल का लुत्फ उठा सकता हूं। इसलिए मैं इस पर गौर करूंगा कि चीजें कैसे आगे बढ़ती हैं। मैं स्वयं इसका लेकर जिज्ञासु हूं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept