इमाद वसीम की नाबाद पारी से पाकिस्तान विश्व कप के सेमिफाइनल में पहुंची

pakistan-vs-afghanistan-imad-wasim-unbeaten-innings-helped-pakistan-reach-the-semi-finals
अफगानिस्तान पहले बल्लेबाजी करते हुए नौ विकेट पर 227 रन ही बना पाया। उसके सात बल्लेबाज दोहरे अंक में पहुंचे लेकिन सबसे बड़ा स्कोर अशगर अफगान (42) और नजीबुल्लाह जादरान (42) का रहा।

लीड्स। इमाद वसीम की विषम परिस्थितियों में खेली गयी नाबाद 49 रन की पारी से पाकिस्तान ने उतार चढ़ाव वाले रोमांचक मैच में शनिवार को यहां अफगानिस्तान को तीन विकेट से हराकर विश्व कप सेमीफाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदें कायम रखी। पाकिस्तान ने 228 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए चोटी के छह बल्लेबाज 156 रन पर गंवा दिये थे। इमाद ने यहीं से जिम्मेदारी संभाली तथा 54 गेंद की अपनी पारी में पांच चौके लगाये। उन्होंने इस बीच शादाब खान (11) के साथ 50 रन और वहाब रियाज (नाबाद 15) के साथ 24 रन की अटूट साझेदारी की जिससे पाकिस्तान वापसी करके सात विकेट पर 230 रन बनाने में सफल रहा।

अफगानिस्तान पहले बल्लेबाजी करते हुए नौ विकेट पर 227 रन ही बना पाया। उसके सात बल्लेबाज दोहरे अंक में पहुंचे लेकिन सबसे बड़ा स्कोर अशगर अफगान (42) और नजीबुल्लाह जादरान (42) का रहा। तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी ने 47 रन देकर चार विकेट लिये। वहाब रियाज (29 रन देकर दो) और इमाद वसीम (48 रन देकर दो) ने दो-दो विकेट लिये। पाकिस्तान की यह आठ मैचों में चौथी जीत है और उसके अब नौ अंक हो गये हैं। उसे सेमीफाइनल में पहुंचने के लिये बांग्लादेश (पांच जुलाई) के खिलाफ जीत दर्ज करनी होगी। अफगानिस्तान की यह लगातार आठवीं हार है। 

इसे भी पढ़ें: केसरिया रंग की जर्सी पर कोहली ने कही ये अहम बात

पाकिस्तान को जब पांच ओवर में 46 रन चाहिए थे तब अफगानिस्तान के कप्तान गुलबदीन नाइब का गेंद थामना गलत फैसला साबित हुआ। उन्होंने इस ओवर में 18 रन लुटाये जिससे पाकिस्तान पर से दबाव कम हुआ। नाइब आखिरी ओवर में छह रन के बचाव करने के लिये भी उतरे लेकिन उन्होंने रन आउट का मौका गंवाया। इमाद ने उनकी चौथी गेंद पर चौका लगाकर पाकिस्तान को जीत दिलायी। पाकिस्तान की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसने पारी की दूसरी गेंद पर ही फखर जमां (शून्य) का विकेट और रिव्यू गंवा दिया था। मुजीब उर रहमान (34 रन देकर दो) ने फखर को पगबाधा आउट किया जिसके लिये उन्होंने डीआरएस का सहारा लिया था। 

इसे भी पढ़ें: कोहली और शास्त्री से पीटरसन ने लगाई गुहार, कहा- इस खिलाड़ी को नहीं करें ड्रॉप

इमाम उल हक (51 गेंदों पर 36) और बाबर आजम (51 गेंदों पर 45) ने कुशलता से पारी को संवारा और दूसरे विकेट के लिये 72 रन जोड़े। मोहम्मद नबी (23 रन देकर दो) ने इमाम को स्टंप आउट करके यह साझेदारी तोड़ी जो लंबा शाट खेलने के लिये आगे बढ़े लेकिन पूरी तरह से गच्चा खा गये। नबी ने इसके बाद आजम को बोल्ड करके पाकिस्तान को संकट में डाल दिया। अफगानिस्तान ने भी सातवें ओवर में अपना रिव्यू गंवा दिया था और इसका नुकसान उसे 28वें ओवर में हुआ जब नाइब की गेंद हारिस सोहेल के बल्ले को चूमकर विकेटकीपर के पास पहुंची थी लेकिन अंपायर ने अपील नकार दी थी। मुजीब ने हालांकि दूसरे छोर पर मोहम्मद हफीज (19) को कैरम बॉल पर बैकवर्ड प्वाइंट पर कैच देने के लिये मजबूर करके अफगानिस्तान को कुछ राहत पहुंचायी। 

इसे भी पढ़ें: कोहली के विकेट पर टिकी हैं मोईन अली की निगाहें

सरफराज अहमद आते ही पवेलियन लौट जाते लेकिन समीउल्लाह शिनवारी अपनी ही गेंद पर उनका कैच नहीं ले पाये। पाकिस्तानी कप्तान हालांकि 18 रन ही बना पाये और दूसरे रन के लालच में अपना विकेट गंवा बैठे। शिनवारी ने इसके बाद शादाब का मुश्किल कैच छोड़ा। ऐसे मौके पर गुलबदीन के ओवर में मैच का पासा पाकिस्तान के पक्ष में मुड़ गया। शादाब रन आउट हो गये। जब आखिरी दो ओवर में 16 रन चाहिए थे तब वहाब रियाज ने राशिद खान पर छक्का लगाया। 

इसे भी पढ़ें: डु प्लेसिस ने ICC पर उठाए सवाल, कहा- शुरू में आसान मैच मिलते तो चीजें अलग होतीं

इससे पहले न्यूजीलैंड के खिलाफ पिछले मैच में 28 रन देकर तीन विकेट लेने वाले 19 वर्षीय तेज गेंदबाज शाहीन ने पांचवें ओवर में लगातार गेंदों पर कप्तान नाइब (15) और हशमुतुल्लाह शाहिदी (शून्य) को आउट करके स्कोर दो विकेट पर 57 रन कर दिया। दूसरे सलामी बल्लेबाज रहमत शाह (43 गेंदों पर 35 रन) फिर से क्रीज पर पर्याप्त समय बिताने के बावजूद लंबी पारी नहीं खेल पाये। बायें हाथ के स्पिनर इमाद वसीम की गेंद पर उन्होंने मिडविकेट पर आसान कैच दिया जिससे स्कोर तीन विकेट पर 57 रन हो गया। 

इसे भी पढ़ें: जब मधुमक्खियों ने हमला तो मैदान पर लेट गए खिलाड़ी और अंपायर

अशगर अफगान और इकराम अलीखिल (24) ने चौथे विकेट के लिये 64 रन जोड़े लेकिन इन दोनों के लगातार ओवरों में चार रन के अंदर पवेलियन लौटने से अफगानिस्तान फिर से संकट में पड़ गया। शादाब खान ने गेंद को फ्लाइट देकर अशगर को अपने जाल में फंसाकर बोल्ड किया जबकि इकराम ने लंब शाट खेलने के प्रयास में लांग आन पर आसान कैच दिया। नबी (16) अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन वहाब रियाज की शार्ट पिच गेंद पर पुल करके उन्होंने अपना विकेट इनाम में दिया। मोहम्मद आमिर ने फाइन लेग पर बेहतरीन कैच लिया। नजीबुल्लाह भी अपनी पारी का अर्धशतक तक पहुंचाने में नाकाम रहे। उन्होंने शाहीन की गेंद विकेटों पर खेली। समीउल्लाह शिनवारी 32 गेंदों पर 19 रन बनाकर नाबाद रहे। 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़