रीजीजू ने कहा, ओलंपिक में अच्छा करना है तो तैराकी पर ध्यान लगाने की जरूरत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 30, 2020   19:11
रीजीजू ने कहा, ओलंपिक में अच्छा करना है तो तैराकी पर ध्यान लगाने की जरूरत

रीजीजू ने कहा कि किसी भी देश के पास अच्छा मौका है क्योंकि तरणताल में काफी संख्या में स्पर्धायें होती हैं। आज हम तैराकी में ओलंपिक स्तर पर कहीं भी नहीं हैं लेकिन अगर हम उचित योजना, समर्पण और पर्याप्त संसाधनों के साथ काम करते हैं तो इस खेल में काफी संभावनायें हैं।

नयी दिल्ली। खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने गुरूवार को कहा कि अगर भारत ओलंपिक खेलों में अच्छा प्रदर्शन करना चाहता है तो देश को तरणताल के खेलों विशेषकर तैराकी पर ध्यान लगाना होगा। उन्होंने कहा कि ओलंपिक में किसी भी देश के लिये तैराकी में सफलता काफी अहम है क्योंकि इस खेल से काफी ज्यादा संख्या में पदक मिलते हैं। रीजीजू ने कहा कि भारत को तेजी से इस पर काम करना होगा ताकि 2028 खेलों तक तरणताल खेलों में प्रतिस्पर्धी बना जा सके।

उन्होंने कहा, ‘‘अगर इतिहास देखें तो ओलंपिक में शीर्ष देशों ने तैराकी में काफी बड़ी संख्या में पदक जीते हैं। पिछले पांच ओलंपिक में अमेरिका ने अपने कुल पदकों में से करीब 31 प्रतिशत तैराकी से हासिल किये।’’ रीजीजू ने कहा, ‘‘किसी भी देश के पास अच्छा मौका है क्योंकि तरणताल में काफी संख्या में स्पर्धायें होती हैं। आज हम तैराकी में ओलंपिक स्तर पर कहीं भी नहीं हैं लेकिन अगर हम उचित योजना, समर्पण और पर्याप्त संसाधनों के साथ काम करते हैं तो इस खेल में काफी संभावनायें हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।