देश में खेल संस्कृति के विकास में केंद्र सरकार के प्रयासों पर दिया Thakur ने जोर

Thakur
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
उन्होंने कहा ,‘‘ प्रधानमंत्री मोदी ने भारत को खेलों की महाशक्ति बनाने पर जोर दिया है।चाहे हमारे खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करना हो या विभिन्न स्पर्धाओं से पहले या बाद में उनसे मिलना हो, यह प्रतिबद्धता साफ नजर आती है।

खेलमंत्री अनुराग ठाकुर ने देश में खेल संस्कृति के विकास के लिये नरेंद्र मोदी सरकार के प्रयासों पर रविवार को जोर दिया और इसमें राज्यों की भूमिका का भी जिक्र किया। ठाकुर ने तमिलनाडु शारीरिक शिक्षा और खेल यूनिवर्सिटी के 13वें दीक्षांत समारोह में कहा कि देश में खेलों और खेल प्रतिभाओं को बढावा देने के विभिन्न प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा ,‘‘ प्रधानमंत्री मोदी ने भारत को खेलों की महाशक्ति बनाने पर जोर दिया है।चाहे हमारे खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करना हो या विभिन्न स्पर्धाओं से पहले या बाद में उनसे मिलना हो, यह प्रतिबद्धता साफ नजर आती है।

उनके नेतृत्व में भारत में खेल संस्कृति का विकास हुआ है, खेलों का बुनियादी ढांचा बेहतर हुआ है और खिलाड़ियों को मैदान से पोडियम तक ले जाने के प्रयास किये जा रहे हैं।’ उन्होंने कहा ,‘‘ खेलो इंडिया परियोजना के तहत विभिन्न उत्कृष्टता केंद्र बनाये गए हैं। विभिन्न खेल वैज्ञानिकों को भी इन केंद्रों में सहयोगी स्टाफ के साथ रखा गया है।’’ ठाकुर ने कहा ,‘‘ मैने खेलमंत्री बनने के बाद कुछ प्रशासनिक पद खत्म किये ताकि अधिक से अधिक कोचों की नियुक्ति हो सके। हमने नौ महीने में 450 से अधिक कोचों की नियुक्ति की।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़