• भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान की शेफाली से उम्मीद, कहा- बेहतर शुरूआत देगी तो अच्छा लगेगा

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली ने कहा कि, शेफाली लगातार बेहतर शुरूआत देगी तो अच्छा लगेगा।बता दें कि टी20 प्रारूप में अपनी छाप छोड़ने के बाद हरियाणा की 17 साल की शेफाली ने इंग्लैंड के खिलाफ अपने पदार्पण टेस्ट में 96 और 63 रन की पारी खेलकर अपनी उपयोगिता साबित की।

ब्रिस्टल। भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान (टेस्ट एवं एकदिवसीय) मिताली राज ने एकदिवसीय पदार्पण को तैयार विस्फोटक बल्लेबाज शेफाली वर्मा से लगातार अच्छी शुरूआत की उम्मीद करते हुए शनिवार को यहां कहा कि अगर यह युवा खिलाड़ीविफल हो जाती है तो भी पारी को फिर से संभालने के लिएटीम के पास बल्लेबाजी की पर्याप्त गहराई है। टी20 प्रारूप में अपनी छाप छोड़ने के बाद हरियाणा की 17 साल की शेफाली ने इंग्लैंड के खिलाफ अपने पदार्पण टेस्ट में 96 और 63 रन की पारी खेलकर अपनी उपयोगिता साबित की।

इसे भी पढ़ें: 17 साल की बल्लेबाज करेंगी वनडे डेब्यू, भारत सफेद गेंद के क्रिकेट में करना चाहेगा भरपायी

मिताली ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले एकदिवसीय मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘ कई बार ऐसा होगा जब वह हमें एक शानदार शुरुआत देगी। हम चाहते हैं कि वह ऐसा लगातार करते रहें। वह हालांकि अभी बच्ची है और अनुभव के साथ सीखेगी, वह यह भी सीखेगी कि एक पारी कैसे बनाई जाती है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘वह पहली बार एकदिवसीय प्रारूप में खेलने वाली है, ऐसे में मैं एक कप्तान के रूप में उसे उस तरीके से खेलने के लिए प्रोत्साहित करती हूं जिसमें वह खेलने में सहज है। उसे अपनी शैली में बल्लेबाजी करनी चाहिये।’’ भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘अगर हम शुरुआत में विकेट गंवा देते हैं, तो भी हमारे पास मध्यक्रम में पारी संभालने वाले अनुभवी बल्लेबाज है। अगर हमें अच्छी शुरुआत मिलती है, तो उस लय को आगे बढ़ाएंगे। हमारे पास ऐसा करने के लिए बल्लेबाजी में गहराई है।’’ इस 38 वर्षीय अनुभवी खिलाड़ी ने कहा कि इंग्लैंड के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में प्रदर्शन से टीम का आत्मविश्वास बढ़ा है।

इसे भी पढ़ें: 130 करोड़ आबादी वाले हिन्दुस्तान पर भारी पड़ा 50 लाख आबादी वाला छोटा सा देश, हो रही चारो तरफ खूब वाहवाही

इंग्लैंड को घरेलू परिस्थितियों से फायदा मिलेगा, लेकिन इंग्लिश लीग में खेलने का अनुभव भारतीय टीम को श्रृंखला में मदद करेगा। उन्होंने कहा, ‘‘हम विश्व कप की तैयारी को लेकर वास्तव में सकारात्मकहैं। लड़कियों ने टेस्ट ड्रा के लिए जिस तरह से प्रदर्शन किया, उससे पूरी टीम का आत्मविश्वास बढ़ा है। इंग्लैंड एक बहुत अच्छी टीम है, जो दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ उन्हें घरेलू परिस्थितियों में खेलने का फायदा होगा। लेकिन हमारे पास ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने यहां इंग्लैंड में लीग खेली हैं, हम उनसे जानकारी लेंगे और इससे हमें अच्छा प्रदर्शन करने में मदद मिलेगी।’’ भारत को मार्च में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू श्रृंखला में 1-4 से हार का सामना करना पड़ा था और कप्तान चाहती हैं कि टीम न्यूजीलैंड में विश्व कप को ध्यान में रखते हुए जीत की राह पर लौटे। उन्होंने कहा, ‘‘न्यूजीलैंड में इंग्लैंड से तेज हवा चलती है। मैं यह नहीं कहूंगी कि परिस्थितियां एक जैसी होगीलेकिन कमोबेश वहां के विकेट कहीं बेहतर हैं। पिछली बार जब हम वहां खेले थे, तो यह एक अच्छी एक दिवसीय श्रृंखला थी। हमारी तैयारी शुरू हो चुकी है, जब हम श्रृंखला में उतरते हैं तो हम हमेशा जीत की ओर देखते हैं।