क्या आप जानते हैं दुनिया के सबसे पुराने होटल के बारे में? यहाँ एक रात गुजारने के लिए देने पड़ते हैं इतने पैसे

क्या आप जानते हैं दुनिया के सबसे पुराने होटल के बारे में? यहाँ एक रात गुजारने के लिए देने पड़ते हैं इतने पैसे

इस होटल का नाम ‘निशियामा ओनसेन कियूनकन’ है। यह दुनिया का सबसे पुराना होटल माना जाता है और इसीलिए इसका नाम ‘गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स’ में दर्ज है। कहा जाता है कि जापान में मौजूद निशियामा ओनसेन कियूनकन नाम के इस होटल का निर्माण साल 705 में फुजिवारा महितो नाम के एक व्यक्ति ने करवाया था।

आज के समय में आपको दुनिया में हर तरह के होटल देखने को मिलेंगे। बढ़िया से बढ़िया बिल्डिंग, लेटेस्ट टेक्नोलॉजी से लेस और हर तरीके की सुविधाओं से भरपूर हैं। ऐसे में एक होटल ऐसा भी है जो इन सभी सुविधाओं से परे है। यह होटल जापान में मौजूद है। इस होटल का नाम ‘निशियामा ओनसेन कियूनकन’ है।  यह दुनिया का सबसे पुराना होटल माना जाता है और इसीलिए इसका नाम ‘गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स’ में दर्ज है।

कहा जाता है कि जापान में मौजूद निशियामा ओनसेन कियूनकन नाम के इस होटल का निर्माण साल 705 में फुजिवारा महितो नाम के एक व्यक्ति ने करवाया था। तब से लेकर अब तक यह होटल आज भी चल रहा है। लगभग 1316 साल पुराने इस होटल को फुजिवारा महितो के परिवार की 52वीं पीढ़ी द्वारा चलाया जा रहा है। सबसे पुराना होटल होने के कारण दुनियाभर में इसकी लोकप्रियता काफी है। दूर-दूर से लोग और बड़ी हस्तियां भी इस होटल में रहने के लिए आते हैं।

इस होटल की सबसे खास बात है इसके आस पास मौजूद गर्म पानी का झरना, जब से इस होटल की शुरूआत हुई है तब से गर्म पानी का यह झरना बिना किसी रुकावट के बहता रहा है। यह होटल चारों तरफ से प्रकृति के खूबसूरत नजारों से घिरा हुआ है, इसके एक खूबसूरत नदी बहती है और दूसरी तरफ घना जंगल है। यहाँ का शांति भरा वातावरण दिल को बेहद सुकून देने वाला है। इस होटल में कुल 37 कमरे मौजूद हैं, जिनमें ठहरने के लिए आपको एक रात के करीब 33 हजार रुपये देने पड़ेंगे। वैसे तो यह होटल दिखने में पुराना लगता है पर समय-समय पर इस होटल का नवीनीकरण होता रहता है। आखिरी बार साल 1997 में इसका नवीनीकरण किया गया था।






Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

लाइफस्टाइल

झरोखे से...