कुछ नया घूमना चाहते हैं तो हिमाचल की इन 3 जगहों पर जरूर जाएं

कुछ नया घूमना चाहते हैं तो हिमाचल की इन 3 जगहों पर जरूर जाएं

शिमला स्थित चांशल दर्रे बहुत पुराना चर्चित स्थान नहीं है, बल्कि यह नया- नया ही चर्चा में आया है। शिमला आने वाले लोग यहां भी पहुंच रहे हैं। सबसे बड़ी बात नया -नया होने के कारण सैलानी यहां बेहद उत्साहित और रोमांच महसूस करते हैं तथा चांसेल दर्रे की खूबसूरती उन्हें बांध के रखती है।

चारों तरफ खूबसूरत पहाड़ों से घिरा यह प्रदेश अपने धामों के लिए भी पूरे विश्व में प्रसिद्ध है। इसके अलावा हिमाचल में तमाम ऐसी खूबसूरत जगहें हैं जिन्हें देखने के लिए देश और दुनिया के सैलानी हर साल भारी संख्या में यहाँ आते हैं। बावजूद इसके आप अगर कुछ नया ढूंढ रहे हैं, तो आप हिमाचल प्रदेश में इन तीन जगहों पर जरूर जाएं और अपनी यात्रा का आनंद लें।

इसे भी पढ़ें: भारत का गांव 'कलाप', जहां रहते हैं कौरव-पांडवों के वंशज

हालाँकि, अभी कोविड-19 का दौर चल रहा है, किन्तु यह समस्या हमेशा नहीं रहेगी, इसलिए प्लान पहले से तैयार रखें...

बिजली महादेव मंदिर

क्या आप कुल्लू- मनाली की हरियाली से बोर हो गए हैं? तो इस बार कुल्लू स्थित 'बिजली महादेव मंदिर' के दर्शनों के लिए जाएं। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि बरसात के दिनों में बार-बार बिजली गिरने से यह मंदिर विखंडित हो जाता है, लेकिन यहां के पुजारी सत्तू और मक्खन की सहायता से वापस इस मंदिर को जोड़ देते हैं। इस अलौकिक मंदिर में भगवान शंकर का शिवलिंग स्थापित है। इस मंदिर के प्रति लोगों में अनंत आस्था है। अगर दूरी की बात करें तो कुल्लू से मात्र 13 किलोमीटर की दूरी पर बिजली महादेव का मंदिर विराजमान है।

इसे भी पढ़ें: जीवन में एक बार जरूर देखें नॉर्थ ईस्ट की यह रोमांचक जगह!

चांशल दर्रे

शिमला स्थित चांशल दर्रे बहुत पुराना चर्चित स्थान नहीं है, बल्कि यह नया- नया ही चर्चा में आया है। शिमला आने वाले लोग यहां भी पहुंच रहे हैं। सबसे बड़ी बात नया -नया होने के कारण सैलानी यहां बेहद उत्साहित और रोमांच महसूस करते हैं तथा चांसेल दर्रे की खूबसूरती उन्हें बांध के रखती है। अगर आप भी कुछ नया ट्राई करना चाहते हैं शिमला स्थित चांशल दर्रे जरूर जाएं। इसके आसपास दो आदिवासी गांव है जिन्हे डोडरा और क्वार गांव कहते हैं। यह जगह पर्यटन के हिसाब से ज्यादा डेवलप नहीं हुई है और यहं कुछ ही एक गेस्ट हाउस हैं। इसलिए चांशल जाने से पहले एडवांस बुकिंग करा लें, नहीं तो रात में रुकने की समस्या हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: नैनीताल में हैं तो इन जगहों का जरूर लें मजा

किन्नौर का 'रक्षम गांव'

हिमाचल के किन्नौर जिले में रक्षम गांव है, जहां माता काली और भगवान शिव का प्राचीन मंदिर स्थित है। इस मंदिर में दर्शन के लिए काफी मात्रा में लोग आते हैं और यहां की खूबसूरती में खो जाते हैं। हालांकि इस गांव में मात्र 800 लोग रहते हैं और खेती से ही अपना जीविकोपार्जन करते हैं। अगर आप किन्नौर के रक्षक गांव आते हैं तो निसंदेह आपको कुछ नया अनुभव होगा और आप रोमांचित महसूस करेंगे।

- विंध्यवासिनी सिंह