रोहित शेखर ने मौत से पहले बता दिया था कि होने वाली है मेरी हत्या! वीडियो आया सामने

By रेनू तिवारी | Publish Date: Jul 19 2019 2:17PM
रोहित शेखर ने मौत से पहले बता दिया था कि होने वाली है मेरी हत्या! वीडियो आया सामने
Image Source: Google

पुलिस ने शुरुआती जांच में यह साफ कर दिया था कि रोहित शेखर की हत्या के पीछे पत्नी अपूर्वा शुक्ला का हाथ है, लेकिन हत्या क्यों की गई? इसके पीछे मकसद क्या था? किन हालातों में हत्या हुई? और इस हत्या में और किसका हाथ है? इन तमाम सवालों के जवाब के लिए पुलिस ने जांच शुरू की और दो महीने बाद 518 पन्नों का आरोप पत्र साकेट कोर्ट में पेश किया गया।

नयी दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की हत्या मामले में नया मोड़ आ गया है। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने साकेत कोर्ट में आरोप पत्र दायर कर दिया है। आरोप पत्र में पुलिस ने बताया है कि जांच के आधार पर और मेडिकल रिपोर्ट के तथ्यों के आधार पर आरोप पत्र तैयार गया किया है, चार्जशीट में कहा गया है कि रोहित शेखर तिवारी की पत्नी अपूर्वा शुक्ला ने पहले रोहित का गला दबाया और जब वह छटपटाने लगा तो अपूर्वा ने उसका नाक और मुंह भी बंद कर दिया, जिसके बाद रोहित का दम घुटने लगा और उसकी मौत हो गई। 

पुलिस का आरोप पत्र

पुलिस ने शुरुआती जांच में यह साफ कर दिया था कि रोहित शेखर की हत्या के पीछे पत्नी अपूर्वा शुक्ला का हाथ है, लेकिन हत्या क्यों की गई? इसके पीछे मकसद क्या था? किन हालातों में हत्या हुई? और इस हत्या में और किसका हाथ है? इन तमाम सवालों के जवाब के लिए पुलिस ने जांच शुरू की और दो महीने बाद 518 पन्नों का आरोप पत्र साकेट कोर्ट में पेश किया गया। 518 पन्नों के इस आरोप पत्र में रोहित के पूरे परिवार और उसके दोस्तों के बयान दर्ज किये गये हैं। इसमें रोहित के ऑफिस के लोगों की भी गवाही शामिल है। आरोप पत्र में फॉरेंसिक व इलेक्ट्रानिक साक्ष्य, मोबाइल कॉल डिटेल रिकॉर्ड व फोटोग्राफ को रखा गया है। कुल मिलाकर परिवार और ऑफिस के कर्मचारी समेत 56 लोगों को गवाही के आधार पर आरोप पत्र तैयार करके कोर्ट में पेश किया गया।

मौत से पहले रोहित ने कहा- मेरी पत्नी मुझे मार देगी!



रोहित शेखर को शायद अपने और अपूर्वा के बीच की सच्चाई मालूम पड़ गई थी इसी लिए रोहित ने मौत से पहले ही भांप लिया था की अपूर्वा उसकी हत्या कर सकती है। पुलिस की जांच में एक वीडियो सामने आया है जिसे रोहित ने मौत से पहले बनाया था। इस वीडियो में रोहित से साफ-साफ कहा है कि उसे अपूर्वा से जान का खतरा है, रोहित ने कहा की मेरी पत्नी मुझे मार देगी। उसने आगे कहा कि अपूर्वा मेरी सारी संपत्ति लेना चाहती हैं मुझे अपूर्वा लगातार मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रही हैं। इस वीडियो के आधार पर पुलिस को अपूर्वा के खिलाफ बड़ा सबूत मिल गया था।

पुलिस के आरोप पत्र के आधार पर रोहित शेखर की हत्या की गुत्थी  सुलझती नजर आ रही है। इस आरोप पत्र में कई बड़े खुलासे हुए हैं। आइये जानते हैं कि रोहित की पत्नी ने कैसे एक शक के चलते रोहित को हमेशा के लिए मौत की नींद सुला दिया- 

हत्या की रात की कहानी-

रोहित शेखर और परिवार वालों का व्यवहार काफी दिनों से पत्नी अपूर्वा के प्रति ठीक नहीं था, इस वजह से अपूर्वा बेहद मानसिक तनाव में थी। 15 अप्रैल को रोहित उत्तराखंड से अपने घर लौटे थे, घर आने के बाद रोहित और अपूर्वा के बीच काफी झगड़ा हुआ। रोहित उस वक्त काफी नशे में थे। रिपोर्ट के आधार पर रोहित को कई बीमारियां भी थी। अपूर्वा लगातार रोहित पर हमलावर हो रही थी लेकिन नशे में होने के कारण रोहित अपना बचाव नहीं कर पा रहे थे। झगड़े के दौरान अपूर्वा का गुस्सा इस कदर बढ़ गया कि उन्होंने रोहित का गला दबा दिया। उत्तराखंड से लौटते ही झगड़ा इसलिए हुआ था कि अपूर्वा ने रोहित को उसकी भाभी के साथ शराब पीते हुए देखा था। इसी वजह से अपूर्वा आगबबूला हो गई थी और रोहित पर हमलावर हो गई थी।

इसे भी पढ़ें: रोहित शेखर की हत्या का पत्नी अपूर्वा को नहीं है पछतावा! पुलिस से कर रही है अजीब व्यवहार



शक और हत्या की वजह-  

हर लड़की की तरह जब अपूर्वा तिवारी खानदान की बहु बनकर घर आयी थी तो उसकी आंखों में भी अपनी नयी जिंदगी को लेकर कई सपने थे। एक रईस परिवार से ताल्लुक रखने वाली अपूर्वा ने रोहित से एक अच्छे पति होने की उम्मीद की थी।  2017 में मेट्रीमोनियल साइट से करीब आये रोहित और आपूर्वा एक-दूसरे को पसंद करते थे। अपूर्वा को लगा रोहित के पिता एनडी तिवारी कई बार उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं, और आंध्र प्रदेश के राज्यपाल भी, साथ ही रोहित के नाना भी चार बाद कैबिनेट मंत्री रहे हैं, ऐसे में रोहित का परिवार काफी अमीर है अगर इस घर में शादी होती है तो लाइफ पूरी तरह से ठीक हो जाएगी साथ ही खूब संपत्ति भी मिलेगी। प्यार, पैसा, लाइफस्टाइल की ख्वाहिश लेकर अपूर्वा ने रोहित से 11 मई 2018 में शादी कर ली। 

ये शादी इंदौर में काफी धूमधाम से हुई, शादी के बाद रोहित और अपूर्वा दिल्ली डिफेंस कॉलोनी स्थित घर सी-329 में रहने के लिए आ गये। थोड़ा वक्त बीतने के बाद अपूर्वा को रोहित की कई सच्चाई  पता चलने लगी। उसे पता चला की रोहित के पास कोई प्रोपर्टी नहीं है। जो कुछ है वो सब रोहित की मां उज्जवला तिवारी के नाम हैं। उज्जवला तिवारी तिलक लेन में रहती थीं जोकि सरकारी क्वार्टर हैं। डिफेंस कॉलोनी वाला घर उज्जवला तिवारी के नाम हैं। अब अपूर्वा को लगने लगा कि मेरे साथ जो कुछ हुआ वो सब गलत हुआ, रोहित और उसके परिवार ने मुझे ठग लिया हैं। उज्जवला तिवारी ने अपनी वसीयत में अपने नाम की जायदाद में 60 प्रतिशत हिस्सा रोहित के नाम और 40 प्रतिशत हिस्सा सिद्धार्थ के नाम कर रखा है। सिद्धार्थ उज्ज्वला के दूसरे पति का बेटा है। वह डिफेंस कॉलोनी में ही रहते हैं। सिद्धार्थ ने भी शादी नहीं की है। वह भी कई बीमारियों से ग्रसित हैं। अब अपूर्वा के हाथ कुछ नहीं था। वह इसलिए भी मानसिक तनाव में थी।

इसे भी पढ़ें: रोहित शेखर के जीवन में खुशियां नहीं थी, पत्नी से चाहता था तलाक: वकील



रोहित की हत्या के बाद अपूर्वा ने रची थी ऐसी कहानी- 

रोहित 15 अप्रैल को शराब के नशे में उत्तराखंड के घर लौटे थे। खाना खाकर रोहित अपने कमरे में सोने के लिए चले गये। रोहित के साथ पत्नी अपूर्वा के संबंध ठीक नहीं थे इसलिए वह दूसरे कमरे में सोती थी। 16 अप्रैल को रोहित उठे नहीं। चार बजे जब घर में काम करने वाला लड़का गोलू रोहित के कमरे में गया तो रोहित की नाक और मुंह से खून निकल रहा था। गोलू ने अपू्र्वा और रोहित की मां को इस बारे में जानकारी दी। रोहित को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। अस्पताल के गार्ड ने पुलिस को 4.41 बजे सूचना दी। परिवार वालों ने पुलिस को बताया था कि शायद रोहित की मौत हार्ट अटैक या ब्रेन हेमरेज के कारण हुई थी। परिवार वालों के इस बयान के बाद पुलिस ने भी हत्या की नजर से इस मामले की जांच नहीं की। रोहित के शव को पोस्टमार्टम के लिए दिल्ली के एम्स अस्पताल में भेज दिया था। पोस्टमार्टम के बाद परिवार वालों को रोहित का अंतिम संस्कार करने के लिए शव को दे दिया गया था। लेकिन जब दो दिन बाद पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आयी तो सबके होश उड़ गये। रोहित की मौत हार्ट अटैक से नहीं बल्कि दम घुटने से हुई थी। इसके बाद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया था।

सीसीटीवी ने खोला रोहित की मौत का राज

15 अप्रैल को देर रात रोहित की मौत हुई थी। इस दौरान घर में कई और लोग भी थे लेकिन घर में लगे सीसीटीवी कैमरे ने रोहित के कातिल को कैद कर लिया। उस रात सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड हुआ कि रोहित की पत्नी अपूर्वा ही उनके कमरे में घुसी थी और देर रात ढाई बजे रोहित के कमरे से वापस निकली। सीसीटीवी कैमरे फुटेज के आधार पर पुलिस को अपूर्वा पर शक हुआ। जिसके बाद पुलिस ने पड़ताल शुरू कर दी। तकनीकी साक्ष्यों और बार-बार पूछताछ में अपूर्वा ने अपने गुनाह को पुलिस के सामने कबूल कर लिया। 24 अप्रैल की सुबह क्राइम ब्रांच ने उसे गिरफ्तार कर लिया था।

शक के चलते भाभी के साथ शराब पीता देखकर गुस्सा से आगबबूला गई थी अपूर्वा

गवाहों के आधार पर कहा गया कि रोहित और अपूर्वा के रिश्ते में अनबन शादी के कुछ दिन बाद से ही शुरू हो गई थी। दोनों के बीच हालात इतने खराब थे कि पति-पत्नी होने के बावजूद साथ नहीं सोते थे। दोनों अलग अलग कमरे में रहते थे। अपूर्वा को रोहित के किसी और औरत के साथ संबंध होने का शक तो पहले से ही था लेकिन 15 अप्रैल को जब उसने अपूर्वा को भाभी कुमकुम के साथ कार में रोहित को शराब पीते देखकर अपूर्वा आगबबूला हो गई थी।

रोहित ने अपूर्वा से बोला था झूठ

रोहित 10 अप्रैल को उत्तराखंड गए थे। उन्होंने अपूर्वा को बोला था कि वह एक दिन में ही लौट आएंगे लेकिन रोहित 15 की रात को लौटे। रोहित के साथ केवल उसकी पत्नी अपूर्वा नहीं गई थी बाकि परिवार के ज्यादातर सदस्य उनके साथ गये थे। मां उज्ज्वला शर्मा, राजीव, राजीव की पत्नी कुमकुम, चालक अखिलेश व घरेलू सहायक गोलू रोहित के साथ थे। हालचाल पूछने के लिए अपूर्वा ने रोहित को वीडियो कॉल की थी जहां अपूर्वा ने देखा कि रोहित भाभी कुमकुम के साथ एक ही गिलास में शराब पी रहा था। इसे देख कर वह गुस्सा हो गई थी। घर का नौकर गोलू पैग बनाकर दे रहा था। जब रोहित घर वापस आये तो उसके पैर लड़खड़ा रहे थे। परिवार के सामने रोहित से अपूर्वा ने बात नहीं की लेकिन जब रोहित कमरे में गये तो अपूर्वा उसने बात करने के लिए उनके कमरे में गई। दोनों के बीच कुमकुम को लेकर झगड़ा हुआ रोहित भाभी के बारे में बात नहीं करना चाहता था इससे गुस्सा कर अपूर्वा ने घटना को अंजाम दे दिया।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story