विश्व हृदय दिवसः जागरूकता ही दिल संबंधी बीमारियों से आपको रखेगी दूर

विश्व हृदय दिवसः जागरूकता ही दिल संबंधी बीमारियों से आपको रखेगी दूर

वर्तमान समय में देखें तो दिल की रोगियों की संख्या तेजी से काफी बढ़ रही है यहीं कारण है हृदय संबंधी बीमारियों के कारण कई लोगों की अचानक मृत्यु हो जाती है। शोध की मानें तो कम उम्र में भी लोगों को हृदय संबंधी बीमारियों से शिकायत हो जाती है।

विश्वभर में 29 सितंबर को वर्ल्ड हार्ट डे के दिन के रूप में मनाया जाता है। दिल मनुष्य शरीर के सबसे अहम अंगों में से एक है। अगर हृदय अपना काम करना बंद कर दे तो व्यक्ति की मौत हो जाती है। आज के समय में लगातार नई प्रकार की बीमारियों और हमारी खराब दिनचर्या के कारण स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है, जिससे दिल को भी काफी नुकसान पहुंचता है ऐसे में दिल को स्वस्थ बनाए रखने के लिए विश्व हृदय दिवस को मनाया जाता है।

इसे भी पढ़ें: जीवन में खुशियों के पलों को वापस लाने में मदद करता है पर्यटन

वर्ल्ड हृदय दिवस का महत्व

वर्तमान समय में देखें तो दिल की रोगियों की संख्या तेजी से काफी बढ़ रही है यहीं कारण है हृदय संबंधी बीमारियों के कारण कई लोगों की अचानक मृत्यु हो जाती है। शोध की मानें तो कम उम्र में भी लोगों को हृदय संबंधी बीमारियों से शिकायत हो जाती है। यही कारण है कि लोगों में हृदय रोग के खतरे को कम करने के लिए तथा जागरूक और प्रेरित करने के लिए विश्व हृदय दिवस शुरू किया गया था। हृदय संबंधी बीमारियों का सबसे बड़ा कारण हमारा खानपान और उसका तौर तरीका है। डॉक्टर के अनुसार हृदय रोग से बचने के लिए हर व्यक्ति को सुबह के समय अपने शरीर को स्वस्थ रखने के लिए कम से कम 40 मिनट का व्यायाम और योगा करना चाहिए। साथ ही साथ तली चीजों और फास्ट फूट से परहेज रखना चाहिए।

विश्व हृदय दिवस का इतिहास

तेजी से बढ़ती हृदय संबंधित बीमारियों को ध्यान रखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की ओर से विश्व हृदय दिवस मनाए जाने का प्रस्ताव रखा गया था। डब्लूएचओ ने वर्ष 2000 में पहली बार विश्व हृदय दिवस को मनाए जाने की घोषणा की थी। जिसके बाद हर साल इसे सितंबर माह के अंतिम रविवार को मनाया जाने लगा। जिसके बाद साल 2014 से विश्व हृदय दिवस को 29 सितंबर के दिन मनाया जाने लगा। विश्व हृदय दिवस का एकमात्र उद्देश्य लोगों को हृदय संबंधी बीमारियों की प्रति जागरूक करना है। साथ ही साथ इसके बचाव के तरीको को भी बताना है।

इसे भी पढ़ें: International Day Of Peace: शांति और सद्भावना से ही विश्व में आएगी स्थिरता

कुछ महत्वपूर्ण तथ्य

- स्‍वस्‍थ्‍य दिल एक दिन में करीब 1,15,200 बार धड़कता है।

- जानकर जरूर अजीब लग सकता है लेकिन महिलाओं की तुलना में पुरूषों का दिल 10 फीसदी अधिक तेजी से धड़कता है।

- रोज हंसने मात्र से 50 फीसदी तनाव कम होता है। जिससे हार्ट पर भी कम असर पड़ता है।

- हृदय शरीर की सभी 75 ट्रिलियन कोशिकाओं में रक्‍त पहुंचाता है।

- कार्डियक अरेस्‍ट होने पर CPR की मदद से इंसान को बचाया जा सकता है। लेकिन CPR भी सिर्फ 10 मिनट के अंदर ही देना होता है।

हृदय को स्‍वस्‍थ रखने के टिप्‍स

- अक्‍सर लोग बीमारी होने पर सतर्क होते हैं लेकिन अगर आप नियमित रूप से 40 मिनट मॉर्निंग वॉक करते हैं तो आपका हृदय स्वस्थ रहेगा।

- प्रतिदिन सुबह फलों का सेवन जरूर करें। उसमें मौजूद फाइबर कोलेस्‍ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। जिससे स्‍ट्रोक का खतरा कम होता है।

- नियमित रूप से एक्‍सपर्ट के मार्गदर्शन में रहकर व्‍यायाम करें।

- नट्स का सेवन जरूर करें। अखरोट, बादाम, पिस्‍ता विशेष रूप से दिल के लिए फायदेमंद है।

- डार्क चॉकलेट का सेवन करने से दिल की बीमारी का खतरा कम होता है। उसमें मौजूद एंटी-एक्‍सीडेंट फ्री रेडिकल्‍स से कोशिकाओं की क्षति को कम करता है।

- अंकित सिंह