लॉक अप शो कंटेस्टेंट पूनम पांडे की तरह देर से होते हैं पीरियड्स, तो अपनाएं यह आसान उपाय

लॉक अप शो कंटेस्टेंट पूनम पांडे की तरह देर से होते हैं पीरियड्स, तो अपनाएं यह आसान उपाय
Creative Commons licenses

पार्सले जिसे अजमोद भी कहा जाता है, यह आपके पीरियड्स को रेग्युलेट करने में मदद कर सकात है। दरअसल, इसमें कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो गर्भाशय के संकुचन को उत्तेजित करते हैं और जिसके परिणामस्वरूप पीरियड्स रेग्युलेट होने शुरू हो जाते हैं।

पिछले दिनों लॉक अप शो की कंटेस्टेंट पूनम पांडे की टास्क परफार्मेंस को लेकर काफी बवाल मचा। जिसके बाद पूनम ने बताया कि उन्हें पीरियड्स को लेकर कुछ इश्यूज हैं। पूनम के अनुसार, उन्हें पीरियड्स समय पर नहीं होते हैं। वैसे यह समस्या सिर्फ पूनम पांडे के साथ नहीं है। बल्कि ऐसी कई महिलाएं हैं, जो इस समस्या से जूझती हैं। देरी से पीरियड्स के कारण ना केवल उन्हें मानसिक तनाव झेलना पड़ता है, बल्कि अन्य भी कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं शुरू हो जाती हैं। इतना ही नहीं, महिलाएं इस पर बात करने से भी हिचकिचाती हैं। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको कुछ ऐसी आसान नेचुरल होम रेमिडीज के बारे में बता रहे हैं, जो आपके पीरियड्स को नियमित करने में काफी हद तक मदद कर सकते हैं-

इसे भी पढ़ें: रूसी ने कर दिया है परेशान तो इस्तेमाल करें लहसुन

पार्सले

पार्सले जिसे अजमोद भी कहा जाता है, यह आपके पीरियड्स को रेग्युलेट करने में मदद कर सकात है। दरअसल, इसमें कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो गर्भाशय के संकुचन को उत्तेजित करते हैं और जिसके परिणामस्वरूप पीरियड्स रेग्युलेट होने शुरू हो जाते हैं। इसके लिए आप दिन में तीन बार 2 ग्राम सूखे अजमोद के पत्तों को 150 मिलीलीटर पानी में उबालकर सेवन करें या फिर दिन में दो बार अजमोद की चाय पिएं।

पपीता

अगर आपको देर से पीरियड्स आने की समस्या है, तो आपको पपीते का सेवन अवश्यक करना चाहिए। दरअसल, पपीते में मौजूद कैरोटीन एस्ट्रोजन हार्मोन को उत्तेजित करता है जिससे मासिक धर्म जल्दी आता है। आप कच्चा पपीता यूं ही काटकर या पपीते के रस के रूप में दिन में दो बार ले सकते हैं।

पीएं अदरक की चाय

अदरक की चाय अनियमित पीरियड्स की समस्या में रामबाण की तरह काम करती है।  कच्चे अदरक का नियमित सेवन आपके पीरियड्स को नियमित करने में मदद कर सकता है। अदरक में जिंजरोल होता है जो शरीर में सूजन को कम करने में मदद करता है। यह गर्भाशय की मांसपेशियों को सिकोड़ने में मदद करता है और हार्मोनल संतुलन में मदद करता है। वहीं, एक गिलास गर्म अदरक की चाय में थोड़ा सा नींबू का रस और एक चुटकी शहद मिलाकर सुबह या शाम खाली पेट पीने से मेटाबॉलिज्म तेज होता है।

इसे भी पढ़ें: पीरियड्स के दौरान रहता है पैड के लीक होने का डर? इन टिप्स से मिलेगा लीकेज की समस्या से छुटकारा

गुड़

गुड़ मीठा होता है और इसमें ढेर सारे औषधीय गुण होते हैं। गुड़ का नियमित सेवन अनियमित पीरियड्स को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है। यह गर्भाशय की ऐंठन को कम करने में भी मदद करता है।

चुकंदर

चुकंदर का सेवन अनियमित मासिक धर्म की समस्याओं और उनके लक्षणों से निपटने में मदद कर सकता है। चुकंदर में उच्च मात्रा में फोलिक एसिड और आयरन होता है जो रक्त में हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है। 

मिताली जैन