बालों को स्ट्रेट करते समय रखें इन बातों का ध्यान, नहीं होगा कोई नुकसान

things-to-take-care-while-doing-hair-straightening-with-flat-iron-in-hindi
मिताली जैन । Sep 19, 2019 3:53PM
अगर आप घर पर बालों को स्ट्रेट कर रही हैं तो आपको आयरन के तापमान पर विशेष ध्यान रखना चाहिए। दरअसल, बालों के टेक्सचर के हिसाब से तापमान सेट किया जाता है। मसलन, अगर आपके बाल सीधे ही हैं और उन्हें महज एक फिनिशिंग चाहिए तो तापमान कम होना चाहिए।

स्ट्रेट बाल महिलाओं को काफी अच्छे लगते हैं और इसलिए अक्सर महिलाएं बालों के स्ट्रेट करने के लिए केमिकल टीटमेंट का सहारा लेती हैं। कई बार केमिकल के कारण बालों का झड़ना शुरू हो जाता है। लेकिन अगर आप महज कुछ देर के लिए किसी खास अवसर पर बालों को स्ट्रेट करना चाहती हैं तो बालों में स्ट्रेटनर का इस्तेमाल किया जा सकता है। यह बालों को स्ट्रेट करने का एक आसान और प्रभावी तरीका है। इसके लिए आपको पार्लर में हजारों रूपए भी खर्च करने नहीं पडे़गे। इससे आप घर पर खुद भी बालों को बेहद कम समय में स्ट्रेट कर सकती हैं। हालांकि इस दौरान आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए ताकि आपके बालों को किसी तरह का नुकसान न हो। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में−


टेंपरेचर का ध्यान

अगर आप घर पर बालों को स्ट्रेट कर रही हैं तो आपको आयरन के तापमान पर विशेष ध्यान रखना चाहिए। दरअसल, बालों के टेक्सचर के हिसाब से तापमान सेट किया जाता है। मसलन, अगर आपके बाल सीधे ही हैं और उन्हें महज एक फिनिशिंग चाहिए तो तापमान कम होना चाहिए। वहीं अगर बाल काफी कर्ली है तो तापमान अधिक रखना होगा।

इसे भी पढ़ें: पार्लर न जाकर घर पर ही करें हेयर स्पा, जानिए कुछ जरूरी टिप्स

करें ध्यान से

जब आप बालों पर स्ट्रेटनर का इस्तेमाल कर रही हों तो आपको इस बात का ख्याल रखना होगा कि आप बालों में स्ट्रेट नर लगाकर रूके नहीं। अगर बाल सही से स्ट्रेट नहीं होते तो आप बालों के उस हिस्से पर दोबारा स्ट्रेटनर का इस्तेमाल कर सकती हैं, लेकिन बालों में स्ट्रेटनर लगाकर होल्ड न करें। इससे आपके बाल जल जाएंगे।


निकालें सेक्शन

बालों को बेहतर तरीके से स्ट्रेट करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप हमेशा सेक्शन क्लिप की मदद से पहले बालों के सेक्शन निकालें और उसके बाद ही स्ट्रेटनर का इस्तेमाल करें। इससे स्ट्रेटनिंग के दौरान बालों को मैनेज करना भी काफी आसान हो जाता है।

इसे भी पढ़ें: इन आसान तरीको को अपनाकर पिंपल्स को कहें अलविदा

पीछे से शुरूआत

बालों की स्ट्रेटनिंग की शुरूआत हमेशा पीछे के बालों से करनी चाहिए। इस तरह स्ट्रेटनिंग करने से बाल अच्छी तरह और आसानी से स्टेट होते हैं। साथ ही बालों को स्ट्रेटनिंग करते समय साथ में कंघी भी करती रहें। इससे बालों की स्ट्रेटनिंग आपको साफ नजर आएगी।


पतली लेयर

अगर आप बालों की स्ट्रेटनिंग करते समय एक फिनिंशिंग चाहती हैं तो हमेशा बेहद पतली लेयर की स्ट्रेटनिंग करें। इससे स्ट्रेटनिंग एक बार में होगी और बालों में शाइनिंग भी गजब की आएगी।

मिताली जैन

अन्य न्यूज़