इस विज्ञापन को लेकर हो रही है ऋतिक रोशन की आलोचना

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 29, 2019   17:10
इस विज्ञापन को लेकर हो रही है ऋतिक रोशन की आलोचना

उद्योग के स्व-नियामक निकाय एएससीआई ने कहा कि ब्रांड का दावा है यह शरीर की बीमारी से लड़ने की प्रतिरक्षा क्षमता को बढ़ाता है।

मुंबई। भारतीय विज्ञापन मानक परिषद (एएससीआई) ने जांच में पाया कि अभिनेता ऋतिक रोशन ने ‘जॉली तुलसी 51’ के विज्ञापन में बिना जांच-पड़ताल के काम किया है जबकि इन विज्ञापनों में किये गये दावे गुमराह करने वाले हैं।

इसे भी पढ़ें: अब कोई फिल्म नहीं करेंगे अमिताभ बच्चन, बॉलीवुड से लेंगे लंबा ब्रेक

एएससीआई ने एक बयान में कहा कि इस बात के कोई साक्ष्य उपलब्ध नहीं कराये गये हैं जिससे यह पता चले कि अभिनेता ने विज्ञापन करने से पहले उसमें कही गयी बातों की सत्यता की जांच की। उद्योग के स्व-नियामक निकाय एएससीआई ने कहा कि ब्रांड का दावा है यह शरीर की बीमारी से लड़ने की प्रतिरक्षा क्षमता को बढ़ाता है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।