पति ऋषि कपूर के निधन के बाद पत्नी नीतू ने शेयर की बेहद भावुक पोस्ट, लिखा- आंसुओं के साथ नहीं...

पति ऋषि कपूर के निधन के बाद पत्नी नीतू ने शेयर की बेहद भावुक पोस्ट, लिखा- आंसुओं के साथ नहीं...

जब मुस्कुराते थे तब मानों खुशियां बिखेर देते थे और जब नाराज होते थे तो फटकार भी लगाते थे। सिमेना के कपूर खानदार की सबसे मजबूत कड़ी ऋषि कपूर ने 30 अप्रैल 2020 सुबह 8.45 पर दुनिया को अलविदा कह दिया।

जब मुस्कुराते थे तब मानों खुशियां बिखेर देते थे और जब नाराज होते थे तो फटकार भी लगाते थे। सिमेना के कपूर खानदार की सबसे मजबूत कड़ी ऋषि कपूर ने 30 अप्रैल 2020 सुबह 8.45 पर दुनिया को अलविदा कह दिया। ऋषि कपूर ऐसे अभिनेता था जिन्होंने हर उम्र के किरदार को पर्दे पर निभाया। ऋषि कपूर के करियर में कभी उम्र बाधा नहीं बनीं क्योंकि उन्होंने अपनी उम्र के हिसाब से किरदार को चुना और दमदार तरीके से प्रस्तुत किया। उन्होंने पर्दे पर बॉबी का किरार भी निभाया और मुल्क में मुराद का भी। समय के साथ-साथ उम्र बढ़ी, शरीर ढला लेकिन कला पर कोई फर्क नहीं पड़ा। कहते हैं कलाकार मरता है लेकिन उसकी कला कभी नहीं। उसने निभाए गये किरदार हमेशा लोगों के जहन में जिंदा रहते हैं। 

इसे भी पढ़ें: ऋषि कपूर ने 2014 में स्मृति से कहा था, भाग जल्दी दिल्ली पागल

ऋषि कपूर भी ऐसी ही शख्सियत थे, जो भरे आज हमेशा के लिए चले गये हो लेकिन वो हमेशा दर्शकों के दिल में अमर रहेंगे। ऋषि कपूर को उनके फैंस बहुत प्यार करते हैं। जब वह अपनी बीमारी का इलाज करवाने अमेरिका गये थे तो लोगों ने उनके ठीक होने की दुआ मांगी थी। ऋषि कपूर की पत्नी नीतू कपूर ने अपने पति के निधन पर एक बहुत ही भावुक पोस्ट शेयर की है। ये पोस्ट उनकी कपूर परिवार की तरफ से आधिकारिक पोस्ट मानी जा रही है। नीतू कपूर ने सोशल मीडिया पर एक लेटर शेयर करके हुए लिखा-

हमारे करीबी ऋषि कपूर का आज सुबह 8.45 पर निधन हो गया। वो पिछले दो सालों से leukemia से ग्रेसित थे। अस्पताल में डॉक्टर ने अंतिम क्षण तक उन्हें बचाने की पूरी कोशिश की थी। ऋषि पिछले दो सालों से खुद को मजूबत रख रहे थे। वो जिंदादिली से जीने की कोशिश कर रहे थे।  परिवार, दोस्त,और फिल्म हमेशा उनके फोकस में रहीं। उन से जो भी मिलता था, वो ये देख हैरान रह जाता था कि इस बीमारी के बीच भी वे खुश थे और अपनी बीमारी को कभी अपने पर हावी नहीं होने देते थे। वो इस बात से खासा खुश थे कि उन्हें अपने फैंस से इतना प्यार मिल रहा था। आप सभी जानते होंगे कि ऋषि की यही इच्छा रही है कि उन्हें हर कोई एक मुस्कान के साथ विदा करे बजाय आंसुओं के।