जानिए क्या जवाब दिया सोनू सूद ने जब एक प्रवासी मजदूर ने कहा, 'आपकी मूर्ति बनवाने की तैयारी में हैं हम'!

जानिए क्या जवाब दिया सोनू सूद ने जब एक प्रवासी मजदूर ने कहा, 'आपकी मूर्ति बनवाने की तैयारी में हैं हम'!

सोनू ने न ही केवल आगे आकर इन मजदूरों की मदद की बल्कि उन्हें उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने का बीड़ा भी उठाया। सोनू ने मजदूरों के खान-पान से लेकर उनके घर जाने के साधन तक हर एक चीज़ की व्यवस्था बड़े ही बेहतरीन ढंग से की।

लॉकडाउन शुरू होने के बाद से ही प्रवासी मजदूर हर दिन सरकार तथा प्रशासन से घर पहुंचवाने की गुहार लगाते रहे हैं। मीडिया भी केवल इन दुखियारों का दुःख कैमरे पर दिखाती और उसके बाद हवा हो जाती. जहां कई लोगों ने इन मजदूरों के साथ सहानुभूति दिखाई वहीं कई ऐसे पक्ष भी थे जो ये कह रहे थे कि, 'जहां हो वहीं क्यों नहीं रह सकते?' लेकिन इन मजदूरों की तकलीफें कोई नहीं समझ पाया। टूटी चप्पलें, कंधे पर पूरे परिवार का बोझ उठाये जब ये मजदूर पैदल ही पलायन करने लगे तब एक नयी राजनीति शुरू हो गयी लेकिन मदद फिर भी नहीं मिली। ऐसे में इन मजदूरों को उनके परिवारों से मिलवाने का बीड़ा सोनू सूद ने उठा लिया और वह भी कोई प्रचार किये बिना।

इसे भी पढ़ें: Madhuri Dixit ने कोरोना वॉरियर्स के लिए गाया अपना पहला गाना Candle, देखें Video

बड़े परदे का यह विलेन अब असल जीवन में लोगों के दिलों का सुपर हीरो बन चुका है। इस आपदा की घड़ी में सोनू सूद प्रवासी मजदूरों के लिए मसीहा बन चुके हैं। जहां देश के बाकी बड़े नेता और सुपरस्टार्स अपने घरों में बैठ कर केवल टिका टिप्पणी और वाद-विवाद कर रहे हैं, वहीं सोनू ने न ही केवल आगे आकर इन मजदूरों की मदद की बल्कि उन्हें उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने का बीड़ा भी उठाया। सोनू ने मजदूरों के खान-पान से लेकर उनके घर जाने के साधन तक हर एक चीज़ की व्यवस्था बड़े ही बेहतरीन ढंग से की।

यही वजह हैं कि हर कोई अब सोनू की प्रशंसा कर रहा है। खुद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी उनके इस नेकी के पहल पर ट्वीट करने से खुद को रोक नहीं पायी। जहां हर कोई सोनू को ट्वीट कर अपना आभार व्यक्त कर रहा है वहीं सोनू भी हर ट्वीट का जवाब बड़े ही विनम्रता से दे रहे हैं। सोनू सूद हर उस व्यक्ति के ट्वीट का जवाब दे रहे जो उन्हें मदद के लिए पुकार रहा हैं। और यही कारण है कि वे लोगों को और भी ज्यादा प्रिय होते जा रहे है।

वैसे तो सोनू को कई लोगों ने ट्वीट किया एवं सोशल मीडिया पर उनके लिए काफी मीम्स भी बने जिन पर सोनू ने अपनी प्रतिक्रियाएं भी दीं लेकिन हमें जिस ट्वीट के जवाब ने आकर्षित किया वह एक प्रवासी मजदूर का था जिसने सोनू को धन्यवाद करने के साथ उनकी मूर्ति बनवाने कि बात कही। उसने लिखा 'बिहार का एक जिला सिवान जहां लोग आपकी मूर्ति बनवाने की तैयारी में हैं सलाम सर बहुत बहुत प्यार आपको'

इसे भी पढ़ें: सलमान के फैंस के लिए खुशखबरी, बच्चों के लिए ‘दबंग’ की आएगी एनिमेटेड सीरीज

इस ट्वीट पर सोनू ने जवाब देते हुए लिखा “भाई उस पैसे से किसी गरीब की मदद करना''। सोनू का यह जवाब वाकई दिल को छू गया। सही मायने में अगर किसी ने इंसानियत की मिसाल खड़ी की है तो वह हैं सोनू सूद और इन्हीं जैसे लोगों की वजह से हमारा देश गर्व महसूस करता है।

हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में सोनू ने कहा कि 'मैं तब तक अपना काम जारी रखूँगा जब तक हर प्रवासी मजदूर अपने घर, अपने परिवार के पास पहुँच नहीं जाता, भले इसमें कितनी ही मेहनत क्यों न लगे।" 

सोनू सूद ने अब तक लगभग 12000 प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुँचाने में कामयाबी हासिल की है।

- श्वेता उपाध्याय