Cannes Film Festival में भारत को और रचनात्मक मौजूदगी दर्ज कराने की जरूरत: प्रसून जोशी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 17 2019 12:46PM
Cannes Film Festival में भारत को और रचनात्मक मौजूदगी दर्ज कराने की जरूरत: प्रसून जोशी
Image Source: Google

जोशी ने कहा, ‘‘यहां पहुंच सबसे पहले मैंने एक मसाला चाय मंगवायी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरी सलाह है कि हर किसी को यह (चाय) पीनी चाहिए। यह भारतीय पेवेलियन की भावना को समग्र रूप में पेश करता है।’’

कान। गीतकार एवं केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के प्रमुख प्रसून जोशी का कहना है कि भारत को कान फिल्म उत्सव के अपनी रचनात्मक मौजूदगी दर्ज कराने की आवश्यकता है। उत्सव में ‘इंडिया पेवेलियन’ को संबोधित करते हुए जोशी ने कहा, ‘‘व्यावसायिक प्रयासों की निश्चित रूप से आवश्यकता है, नेटवर्किंग भी जरूरी है लेकिन रचनात्मक रूप से उत्सव में हिस्सा लेने से बेहतर कुछ नहीं है।’’ उन्होंने कहा कि यह पेवेलियन कान फिल्म उत्सव में हिस्सा ले रहे भारतीय फिल्म जगत के लोगों के लिए घर से दूर एक घर है।

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: रोमांस की जगह अगर आप का दिल थ्रिलर फ़िल्में देख कर धड़कता है, तो ये फ़िल्में ज़रूर देखना

जोशी ने कहा, ‘‘यहां पहुंच सबसे पहले मैंने एक मसाला चाय मंगवायी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरी सलाह है कि हर किसी को यह (चाय) पीनी चाहिए। यह भारतीय पेवेलियन की भावना को समग्र रूप में पेश करता है।’’

इसे भी पढ़ें: भारत अपने गायकों के लिए पहचाना जाए, यह मेरा सपना है: अरमान मलिक



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video