इस वजह से कीर्ति खरबंदा ने छोड़ी अमिताभ बच्चन और इमरान हाशमी की फ़िल्म ''चेहरे''

इस वजह से कीर्ति खरबंदा ने छोड़ी अमिताभ बच्चन और इमरान हाशमी की फ़िल्म ''चेहरे''

कीर्ति खरबंदा अब फ़िल्म ''चेहरे'' का चेहरा नहीं होंगी, क्योंकि उन्होंने फ़िल्म में एक इंटिमेट सीन करने से मना कर दिया था। शूटिंग के दौरान कीर्ति से इंटिमेट सीन करने के लिये कहा गया, पर वो इसमें सहज नहीं थीं। इसलिये उन्होंने वो सीन फ़िल्माने से मना कर दिया।

बॉलीवुड फ़िल्मों में बहुत से ऐसे सीन होते हैं, जिसे अभिनेता या अभिनेत्री फ़िल्माने से मना कर देते हैं। अब सीन के लिये मना करने के बाद वो स्टार फ़िल्म में रहता है या नहीं, ये इस बात पर निर्भर करता है कि वो फ़िल्म इंडस्ट्री का कितना बड़ा स्टार है। अगर कोई बड़ा स्टार सीन करने से मना करे, तो इस दौरान डायरेक्टर को भी उसकी हां में हां मिलनी होती है। 

वहीं अगर कोई ऐसा स्टार सीन करने से मना करे, जिसे बॉलीवुड में आये हुए ज़्यादा समय नहीं हुआ है या वो कोई बड़ा नाम नहीं बना है, तो फ़िल्म से ही आउट कर दिया जाता है। ऐसा एक बार नहीं, बल्कि हज़ारों बार हो चुका होगा। वो बात और है कि इन बातों का ज़िक्र कम ही सुनने को मिलता है। इसी क्रम में ताज़ा हादसा 'शादी में ज़रूर आना', 'हाउसफ़ुल 4' में नज़र आई कीर्ति खरबंदा के साथ हुआ था। अभिनेत्री अमिताभ बच्चन और इमरान हाशमी स्टारर फ़िल्म 'चेहरे' में नज़र आने वाली थीं। 

इसे भी पढ़ें: इंडियन आइडल से हटे अनु मलिक, संगीतकार एसोसिएशन से एक मौका मांगा

पर अफ़सोस अब वो इस फ़िल्म का हिस्सा नहीं हैं। कीर्ति खरबंदा अब फ़िल्म 'चेहरे' का चेहरा नहीं होंगी, क्योंकि उन्होंने फ़िल्म में एक इंटिमेट सीन करने से मना कर दिया था। शूटिंग के दौरान कीर्ति से इंटिमेट सीन करने के लिये कहा गया, पर वो इसमें सहज नहीं थीं। इसलिये उन्होंने वो सीन फ़िल्माने से मना कर दिया। कीर्ति ने सिर्फ़ 2 दिन शूट किया था। इसके बाद उन्होंने फ़िल्म के लिये न कह दी। 

रिपोर्ट के मुताबिक, इस सीन में कीर्ति को एक अभिनेता के साथ इंटिमेट होना था, जबकि इमरान उन्हें ऐसा करते हुए बगल के कमरे से देखने वाले थे। रिपोर्ट के मुताबिक़, उन्हें ये नहीं बताया गया था कि ये एक लॉन्ग ड्रॉन सीन था। कीर्ति के अनुसार, फ़िल्म में इस सीन की ज़रूरत नहीं थी। काफ़ी विचार-विमर्श और बहस के बाद कीर्ति ने आखिरी में फ़िल्म छोड़ने का फ़ैसला लिया। 

इसे भी पढ़ें: शबाना आजमी की मां और अभिनेत्री शौकत कैफी का 93 की उम्र में निधन

कीर्ति ने वो किया जो उन्हें सही लगा और हर अभिनेत्री को न कहने का हक है। पर यहां सवाल ये है कि क्या अगर कीर्ति की जगह कोई और अभिनेत्री होती, तो भी डायरेक्टर और प्रोड्यूसर का यही रवैया होता है? ज़ाहिर सी बात है बिल्कुल नहीं।

- आकांक्षा तिवारी