'सितंबर-अक्टूबर तक शुरू हो जाएंगी 5G सेवा', अश्विनी वैष्णव बोले- नीलामी प्रोसेस को रिकॉर्ड समय में किया पूरा, सारे प्रतिभागियों ने लिया हिस्सा

Ashwini Vaishnaw
ANI Image
केंद्रीय संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि विभाग ने 5G की नीलामी के लिए तेजी से काम करके नीलामी के प्रोसेस को रिकॉर्ड समय में पूरा किया। दिन के अंत तक 4 राउंड पूरे हुए हैं। अभी तक की नीलामी को देखकर लग रहा है कि इस बार सबसे ज़्यादा राजस्व आएगा।

नयी दिल्ली। 5जी स्पेक्ट्रम के लिए नीलामी प्रक्रिया मंगलवार से शुरू हो गई। ऐसे में केंद्रीय संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने नीलामी से प्राप्त राजस्व की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आज नीलामी से 1.45 लाख करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ है। आपको बता दें कि स्पेक्ट्रम नीलामी के इस दौर में 5जी के लिए मौजूदा दूरसंचार सेवा प्रदाताओं रिलायंस जियो, भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया के अलावा गौतम अडाणी की कंपनी अडाणी एंटरप्राइजेज भी बोली लगा रही है।

इसे भी पढ़ें: 5G spectrum की नीलामी हुई शुरू, आमने-सामने अडाणी और अंबानी की कपंनी 

सितंबर-अक्टूबर तक शुरू हो जाएंगी 5G सेवा

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, केंद्रीय संचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि विभाग ने 5G की नीलामी के लिए तेजी से काम करके नीलामी के प्रोसेस को रिकॉर्ड समय में पूरा किया। दिन के अंत तक 4 राउंड पूरे हुए हैं। अभी तक की नीलामी को देखकर लग रहा है कि इस बार सबसे ज़्यादा राजस्व आएगा।

उन्होंने कहा कि हमें आज की नीलामी से 1.45 लाख करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ है। सारे प्रतिभागियों ने इस नीलामी में हिस्सा लिया है। हमारा इस प्रक्रिया को 14 अगस्त तक पूरा करना है और देश में 5G सेवा सितंबर-अक्टूबर तक शुरू हो जाएंगी।

इसे भी पढ़ें: रिलायंस जियो ने 5जी नीलामी के लिए सबसे अधिक 14,000 करोड़ रुपये की अग्रिम राशि जमा कराई 

गौरतलब है कि देश में 5जी सेवाएं शुरू होने से अत्यधिक तीव्र गति वाली इंटरनेट सेवाएं देने का रास्ता साफ हो पाएगा। मौजूदा 4जी सेवाओं की तुलना में 5जी सेवा करीब 10 गुना तेज होगी। रिलायंस जियो ने नीलामी के लिए 14,000 करोड़ रुपए की राशि विभाग के पास जमा कराई थी जबकि अडाणी एंटरप्राइजेज ने 100 करोड़ रुपए की राशि जमा की थी।

अन्य न्यूज़