कार्गो को मंजूरी देने की प्रक्रिया के स्वचालन से बेहतर होगा व्यापार करना: एडीबी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 23, 2020   11:33
कार्गो को मंजूरी देने की प्रक्रिया के स्वचालन से बेहतर होगा व्यापार करना: एडीबी

आपूर्ति श्रृंखला में न्यूनतम भौतिक दखल के साथ तेजी से कार्गो को मंजूरी और डिजिटलीकरण को तेजी से अपनाने से दक्षिण एशियाई देशों को महामारी के इस दौर में व्यापार बेहतर बनाने में मदद मिलेगी।

नयी दिल्ली। आपूर्ति श्रृंखला में न्यूनतम भौतिक दखल के साथ तेजी से कार्गो को मंजूरी और डिजिटलीकरण को तेजी से अपनाने से दक्षिण एशियाई देशों को महामारी के इस दौर में व्यापार बेहतर बनाने में मदद मिलेगी। एशियाई विकास बैंक (एडीबी) के एक ब्लॉग पोस्ट में यह बात कही गयी है। यह ब्लॉग ऐलीन पंगिलिनन और सतीश रेड्डी ने मिलकर लिखा है। फिलीपीन की पंगिलिनन एडीबी के दक्षिण एशिया उपक्षेत्रीय आर्थिक सहयोग (एसएएसईसी) में व्यापार सुगमता विभाग में कार्यरत हैं।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान को जी20 देशों से 80 करोड़ डॉलर की ऋण राहत मिली: रिपोर्ट

रेड्डी भी एडीबी में व्यापार सुगमता विशेषज्ञ हैं। ब्लॉग में कहा गया है कि इस महामारी ने दक्षिण एशिया तथा आस-पास के देशों में व्यापार को सुगम बनाने के महत्व के बारे में बताया है। ब्लॉग में कहा गया है, ‘‘एसएएसईसी देशों ‘बांग्लादेश, भूटान, भारत, मालदीव, म्यामां, नेपाल और श्रीलंका’ को देखें तो यह पता चलता है कि प्रभावी व आधुनिक व्यापार सुगमता उपायों का कितना महत्व है।’’

इसे भी पढ़ें: एफपीआई ने नंवबर में भारतीय बाजारों में 49,553 करोड़ रुपये डाले

ब्लॉग लेखकों ने कहा कि जब यह महामारी शुरू हुई, इन देशों में उस समय व्यापार को सुगम बनाने पर काम चल रहा था। हालांकि जब महामारी का प्रकोप हावी हुआ, तब सीमा शुल्क विभाग के लिये कार्गो को मंजूरी देने के काम पर कर्मचारी रख पाना मुश्किल होने लग गया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।