DLF के QIP को दोगुना अभिदान, 3,200 करोड़ रुपये जुटाने में मिलेगी मदद

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 27 2019 6:27PM
DLF के QIP को दोगुना अभिदान, 3,200 करोड़ रुपये जुटाने में मिलेगी मदद
Image Source: Google

उन्होंने कहा कि इस पेशकश में भाग लेने वाले प्रमुख संस्थागत निवेशकों में यूबीएस , ओपेनहाइमर , एचएसबीसी , मार्शल एंड वेस , की स्क्वायर , गोल्डमैन साक्स , इंड्स , ईस्टब्रिज , टाटा म्यूचुअल फंड और एचडीएफसी म्यूचुअल फंड शामिल रहे।

नयी दिल्ली। रीयल एस्टेट क्षेत्र की दिग्गज कंपनी डीएलएफ की पात्र संस्थागत नियोजन (क्यूआईपी) पेशकश को दोगुना अभिदान मिला है। इससे कंपनी को करीब 3,200 करोड़ रुपये की पूंजी जुटाने में मदद मिलेगी। देश की सबसे बड़ी रीयल एस्टेट कंपनी डीएलएफ ने सोमवार को क्यूआईपी पेशकश शुरू की थी। इसमें निवेशकों के लिए 17.3 करोड़ शेयरों की पेशकश की गई है।

इसे भी पढ़ें: प्रतिबंधित सामान के लिए निर्यात लाइसेंस पाने की ऑनलाइन सुविधा शुरू

बाजार सूत्रों के मुताबिक , करीब 183-184 रुपये प्रति शेयर के भाव पर डीएलएफ के क्यूआईपी पेशकश को दोगुना अभिदान मिला है। उन्होंने कहा कि इस पेशकश में भाग लेने वाले प्रमुख संस्थागत निवेशकों में यूबीएस , ओपेनहाइमर , एचएसबीसी , मार्शल एंड वेस , की स्क्वायर , गोल्डमैन साक्स , इंड्स , ईस्टब्रिज , टाटा म्यूचुअल फंड और एचडीएफसी म्यूचुअल फंड शामिल रहे।

इसे भी पढ़ें: आईओसी-बीपीआरएल ने अबू धाबी में हासिल किया तेल ब्लाक

डीएलएफ की क्यूआईपी पेशकश शुक्रवार को बंद होगी। डीएलएफ ने कंपनी को कर्ज - मुक्त करने के उद्देश्य से पिछले साल क्यूआईपी के जरिए शेयर जारी करने की योजना की घोषणा की थी। इसका मकसद पूंजी जुटाना और ऋण का भुगतान करना है। डीएलएफ ने 193.01 रुपये के भाव पर क्यूआईपी पेशकश शुरुआत की थी लेकिन कहा था कि वह इस भाव पर 5 प्रतिशत तक की छूट दे सकती है। कंपनी की तरफ से यह तीसरी बड़ी पूंजी जुटाने की प्रक्रिया है। इससे पहले उसने 2007 में आईपीओ के जरिए करीब 9,200 करोड़ रुपये जुटाए थे। साल 2013 में कंपनी ने संस्थागत नियोजन कार्यक्रम के माध्यम से करीब 1,900 करोड़ रुपये जुटाए थे।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप