40 साल पहले लॉन्च हुई थी Maruti की यह कार, भारतीय बाजार में मचा दी थी धूम, देखिए तस्वीरें

maruti
Twitter @shashankdrives
निधि अविनाश । Aug 26, 2022 3:26PM
मारुति सुजुकी के वरिष्ठ कार्यकारी निदेशक, बिक्री और विपणन, शशांक श्रीवास्तव ने इस कार की एक तस्वीर ट्वीटर पर शेयर की है और कैप्शन में लिखा है, जिस तरह 75 साल पहले भारत ने स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में अपना पहला कदम उठाया था, उसी तरह मारुति ने पहली मारुति-800 कार 40 साल पहले लॉन्च की थी।

क्या आपको पता है कि मारुति की पहली कार कौन सी थी और कैसी दिखती थी। साल 1983 का वो साल जब मारुति ने अपनी पहली कार मारुति 800 लॉन्च की थी। अब यह कार सड़कों पर नजर नहीं आती लेकिन एक ऐसा समय था जब भारतीय इस कार को खरीदने का सपना ही देखते थे। भारतीय बाजार में इस कार की जबरदस्त चर्चा होती थी। इस कार की साल 2004 तक काफी जबरदस्त बिक्री हुई थी। हालांकि, कंपनी ने इस कार को बंद कर दिया है लेकिन अब इस कार की अचानक से खूब चर्चा हो रही है। 

इसे भी पढ़ें: Google ने लोन देने वाले दो हजार से ज्यादा ऐप्स को हटाया, नियम होंगे और सख्त

क्यों हो रही है इस कार की चर्चा

मारुति ने इस कार की बेची गई पहली यूनिट को रिस्टोर किया है। बिजनेस टुडे की एक रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी ने मारुति 800 की पहली यूनिट को खोजकर उसे रिस्टोर किया है। यह कार इस समय हरियाणा के मारुति सुजुकी के मुख्यालय में रखा गया है। मारुति सुजुकी के वरिष्ठ कार्यकारी निदेशक, बिक्री और विपणन,  शशांक श्रीवास्तव ने इस कार की एक तस्वीर ट्वीटर पर शेयर की है और कैप्शन में लिखा है, जिस तरह 75 साल पहले भारत ने स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में अपना पहला कदम उठाया था, उसी तरह मारुति ने पहली मारुति-800 कार 40 साल पहले लॉन्च की थी।

इसे भी पढ़ें: आपके शहर में कब से शुरू होगी 5G सेवा, सरकार ने दिया ये बड़ा बयान

जानकारी के लिए बता दें कि पहली मारुति 800 कार को खरीदने वाले शख्स दिल्ली के हरपाल सिंह थे और उन्हें इस कार की चाबी पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने अपने हाथों से दी थी। हरपाल सिंह का निधन साल 2010 में हो गया था। जब कंपनी को यह कार मिली तो इसकी हालत काफी खराब थी जिसे बाद में रिस्टोर किया गया। इसकी पहली यूनिट हरियाणा में मारुति उघोग लिमिटेड में तैयार की गई थी। उस समय इस कार की कीमत केवल 47,500 थी। साल 2010 में कंपनी ने इस कार की प्रोडक्शन बंद करने का फैसला किया था और इसकी जगह पर मारुति ऑल्टो पेश की गई। 

अन्य न्यूज़