हुंदै बिजली चालित वाहनों के लिए भारत में तलाश रही है संभावनाएं

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 21 2019 6:03PM
हुंदै बिजली चालित वाहनों के  लिए भारत में तलाश रही है संभावनाएं
Image Source: Google

हुंदै ने कहा वह देश में हाइब्रिड मॉडलों को लेकर सरकारी नीतिओं में और स्पष्टता चाहती है। कंपनी भारत में अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली हुंदै मोटर इंडिया लिमिटेड (एचएमआईएल) के जरिए कारोबार करती है।

नयी दिल्ली। दक्षिण कोरिया की प्रमुख कार निर्माता हुंदै बिजली से चलने वाले वाहनों (ईवी) के कल-पुर्जे की भारत में आपूर्ति की संभावनाएं तलाश रही है। कंपनी बैटरी के कल-पुर्जों का भी स्थानीय स्तर पर विनिर्माण चाहती है। हुंदै ने कहा वह देश में हाइब्रिड मॉडलों को लेकर सरकारी नीतिओं में और स्पष्टता चाहती है। कंपनी भारत में अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली हुंदै मोटर इंडिया लिमिटेड (एचएमआईएल) के जरिए कारोबार करती है।

इसे भी पढ़ें: होंडा कार्स ने मार्च में 27 प्रतिशत वृद्धि के साथ 17,202 वाहन बेचे



एचएमआईएल के प्रबंध निदेशक और सीईओ एस एस किम ने  पीटीआई-भाषा  से कहा,  हम विभिन्न विकल्पों का अध्ययन कर रहे हैं, भारत में एचएमआईएल के साथ हुंदै मोटर कंपनी का खरीद खंड इस पर विचार कर रहा है। उन्होंने कहा कि हुंदै मोटर कंपनी बैटरी के अपघटकों के लिए भारतीय आपूर्तिकर्ताओं से संपर्क कर रही है।
हुंदै की इस साल सीकेडी (सभी कल-पुर्जे अलग-अलग) प्रारूप के तहत देश में लाकर उन्हें यहीं एसेम्बल कर पहली ईवी पेश करने की योजना है। वाहन को हुंदै के चेन्नई स्थित विनिर्माण संयंत्र में असेंबल किया जाएगा। सरकार के ईवी कल-पुर्जों की स्थानीय स्तर पर आपूर्ति पर बल दिये जाने के बाद सुजुकी मोटर कॉर्प अपने साझीदारों के साथ मिलकर गुजरात के हंसलपुर में ऑटोमोटिव लिथियम ऑयन बैटरी विनिर्माण संयंत्र लगाने की प्रक्रिया में है। टाटा मोटर्स और महिंद्रा भी देश में ईवी की दिशा में काम कर रही हैं।


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप