कर्नाटक की कहानी दूसरे से अलग, हम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करते हैं : बोम्मई

Basavraj Bommai
ANI Photo.
बोम्मई ने बुधवार को कहा कि उनका राज्य ‘व्यापार करने के लिए सबसे सुरक्षित स्थान’ है। उन्होंने कहा कि उनका राज्य घरेलू स्तर पर नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा कर रहा है। उन्होंने कहा कि अब हम हाइड्रोजन और अमोनिया ईंधन पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

दावोस|  वैश्विक आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की वार्षिक बैठक में निवेशकों को लुभाने के लिए भारत के कई राज्य शामिल हुए हैं। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई भीयहां आए हुए हैं और अपने राज्य को निवेश के एक बेहतर गंतव्य के रूप में पेश कर रहे हैं।

बोम्मई ने बुधवार को कहा कि उनका राज्य ‘व्यापार करने के लिए सबसे सुरक्षित स्थान’ है। उन्होंने कहा कि उनका राज्य घरेलू स्तर पर नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा कर रहा है। उन्होंने कहा कि अब हम हाइड्रोजन और अमोनिया ईंधन पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि भारत में मौजूद लगभग आधी विदेशी कंपनियां पहले से ही कर्नाटक में हैं और वे सभी राज्य में विस्तार एवं विविधता लाने की योजना बना रही हैं। इसके अलावा कई और कंपनियां राज्य में मजबूत बुनियादी ढांचे, प्रतिभा पूल और कारोबार की सुगम स्थिति की वजह से कर्नाटक में निवेश करना चाहती हैं।

डब्ल्यूईएफ की वार्षिक बैठक-2022 के दौरान बोम्मई ने पीटीआई-से एक साक्षात्कार में कहा कि राज्य की राजधानी बेंगलुरु में भीड़भाड़ कम करने की प्रक्रिया जारी है और कई आसपास के क्षेत्रों के साथ-साथ दूसरी और तीसरी श्रेणी के शहरों को विकसित किया जा रहा है। वहीं इस साल चार नए हवाईअड्डे भी बनाए जाएंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘कर्नाटक की कहानी अन्य राज्यों से अलग है।’’ यहां अपनी यात्रा के बारे में बात करते हुए बोम्मई ने कहा कि दावोस का अनुभव बेहतर रहा है। इस दौरान उन्होंने देखा कि अंतरराष्ट्रीय निवेशक समुदाय भारत विशेषरूप से कर्नाटक को एक उभरती आर्थिक ताकत के रूप में देख रहा है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़