ग्राहको को धोखाधड़ी से बचाने के लिए Paytm ने गृह मंत्रालय को सौंपी 3,500 नंबरों की लिस्ट

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 25, 2020   12:36
ग्राहको को धोखाधड़ी से बचाने के लिए Paytm ने गृह मंत्रालय को सौंपी 3,500 नंबरों की लिस्ट

ग्राहकों को धोखाधड़ी से बचाने के लिए पेटीएम भुगतान बैंक ने गृह मंत्रालय, ट्राई और सीईआरटी-इन को 3,500 फोन नंबरों की सूची सौंपी है। पीपीबी ने दावा किया कि उसने इस घोटाले को रोकने के लिए इन लोगों के खिलाफ साइबर सेल में भी प्राथमिकी दर्ज की है।

नयी दिल्ली। पेटीएम भुगतान बैंक (पीपीबी) ने गृह मंत्रालय, ट्राई और सीईआरटी-इन को 3,500 फोन नंबरों की सूची सौंपी है। इन फोन नंबरों के जरिये भोले भाले ग्राहकों को धोखाधड़ी के जाल में फंसाने के लिये कॉल किया जाता है। पीपीबी ने दावा किया कि उसने इस घोटाले को रोकने के लिए इन लोगों के खिलाफ साइबर सेल में भी प्राथमिकी दर्ज की है। ट्राई, गृह मंत्रालय और सीईआरटी-इन के अधिकारियों के साथ कई बैठकों में पीपीबी ने विभिन्न संवेदनशील सूचनायें जुटाने और धोखाधड़ी वाले मोबाइल फोन एसएमएस और कॉल के जरिये हो रहे घोटाले की जानकारी दी। इसकी वजह से डिजिटल भुगतान करने वाले ग्राहक प्रभावित हो रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: पेटीएम फास्टैग का इस्तेमाल करने के 5 लाभ क्या है, आइये जानते हैं

सीईआरटी- इन कंप्यूटर सुरक्षा संबंधी मामलों में कार्रवाई करने वाली एजेंसी है। पीपीबी ने कहा कि अधिकारियों के साथ बैठक में कंपनी ने स्पष्ट कर दिया कि इस तरह की धोखाधड़ी से लाखों भारतीयों का भरोसा डगमगाता है। बयान में कहा गया है कि हमारे जैसे बैंक इन नंबरों की पहचान कर भविष्य में धोखाधड़ी और घोटालों को विधि प्रवर्तन एजेंसियों, नियामकों और दूरसंचार आपरेटरों के सहयोग से रोका जा सकता है। 

इसे भी देखें: अगर गाड़ी चलाते हैं आप तो लगा लीजिये फास्टैग, ऐसे करेगा काम 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।