शेयर बाजार में आई तेजी, 400 अंकों की बढ़त के साथ खुला सेंसेक्स

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 28, 2020   10:30
शेयर बाजार में आई तेजी, 400 अंकों की बढ़त के साथ खुला सेंसेक्स

शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 400 अंक चढ़ा है।सुबह के कारोबार में सेंसेक्स पिछले बंद के मुकाबले 8.17 अंक यानी 0.026 प्रतिशत की बढ़त के साथ 31,751.25 अंक पर चल रहा है। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 6.60 अंक यानी 0.07% की तेजी के साथ 9,288.90 अंक पर कारोबार कर रहा है।

मुंबई। वैश्विक बाजारों के सुधार के संकेतों के बीच शुरुआती कारोबार में बीएसई सेंसेक्स में मंगलवार को 400 अंक से ज्यादा की तेजी रही। रिजर्व बैंक के वित्तीय सहायता की घोषणा के बाद वित्त क्षेत्र की कंपनियों के शेयरों में बढ़त रही। बीएसई के 30 शेयरों वाले सेंसेक्स में कारोबार उतार-चढ़ाव वाला रहा। शुरुआती कारोबार में 400 अंक से ज्यादा की बढ़त के साथ यह 32,164.65 अंक के उच्च स्तर तक पहुंच गया। हालांकि यह बढ़त ज्यादा देर नहीं रही। सुबह के कारोबार में सेंसेक्स पिछले बंद के मुकाबले 8.17 अंक यानी 0.026 प्रतिशत की बढ़त के साथ 31,751.25 अंक पर चल रहा है। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 6.60 अंक यानी 0.07% की तेजी के साथ 9,288.90 अंक पर कारोबार कर रहा है।

इसे भी पढ़ें: HDFC लाइफ का चौथी तिमाही का शुद्ध लाभ 15% घटकर 312 करोड़

पिछले सत्र के कारोबार में सेंसेक्स 31,743.08 अंक पर और निफ्टी 9,282.30 अंक पर बंद हुआ था। बाजार विशेषज्ञों के मुताबिक रिजर्व बैंक के म्यूचुअल फंड कंपनियों के लिए 50,000 करोड़ रुपये की विशेष नकदी राहत का असर बाजार पर देखने को मिला है। वहीं सरकार की ओर से एक और राहत पैकेज की आस में निवेशकों की धारणा सुधरी है। हांगकांग और शंघाई जैसे प्रमुख एशियाई शेयर बाजारों के सकारात्मक रुख के साथ कारोबार करने का असर भी घरेलू बाजार पर दिखा है। शुरुआती कारोबार में सबसे अधिक लाभ में इंडसइंड बैंक का शेयर रहा। यह आठ प्रतिशत तक चढ़ गया। इसके अलावा एक्सिस बैंक, एचडीएफसी, टेक महिंद्रा, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक बैंक और एसबीआई में भी बढ़त देखी गयी। आरंभिक आंकड़ों के मुताबिक विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने सोमवार को 916.42 करोड़ रुपये की बिकवाली की। इस बीच ब्रेंट कच्चा तेल की कीमत 2.77 प्रतिशत घटकर 22.43 डॉलर प्रति बैरल रही। कोरोना वायरस का प्रकोप अब भी बना हुआ है। दुनियाभर में इससे मरने वालों की संख्या 2.11 लाख से ज्यादा हो चुकी है। भारत में भी यह आंकड़ा 934 हो गया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।