वैष्णव ने दूरसंचार क्षेत्र के नए कानूनी ढांचे के लिए उद्योग से सुझाव मांगे

Ashwani Vaishnaw
ANI Photo.
वैष्णव ने कहा, ‘‘हम यह सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं कि भारत की नियामक प्रणाली दुनिया की सबसे अच्छी हो... एक नियामक संरचना बने, जहां आप (उद्योग) निश्चितता के साथ निवेश की योजना बना सकें।’’

नयी दिल्ली| दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बृहस्पतिवार को कहा कि सरकार दूरसंचार उद्योग के लिए एक नया कानूनी ढांचा तैयार करना चाहती है और उन्होंने इस संबंध में उद्योग से सुझाव मांगे।

दूरसंचार विभाग (डॉट) ने हाल में मुख्य रूप से 5जी जैसे तकनीकी बदलाव के साथ तालमेल बैठाने, कानूनों को सरल बनाने और निवेश को बढ़ावा देने के लिए दूरसंचार नियमों में सुधार पर एक परामर्श पत्र जारी किया है।

वैष्णव ने कहा, ‘‘हम यह सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं कि भारत की नियामक प्रणाली दुनिया की सबसे अच्छी हो... एक नियामक संरचना बने, जहां आप (उद्योग) निश्चितता के साथ निवेश की योजना बना सकें।’’

उन्होंने उद्योग से वादा किया कि अनिश्चितताओं के सभी तत्वों को हटा दिया जाएगा। वैष्णव ने उद्योग जगत से चर्चा प्रक्रिया में सक्रिय रूप से भाग लेने और सुझाव देने को कहा।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़