मुश्ताक अली टी20 फाइनल: तमिलनाडु का पलड़ा बड़ौदा पर भारी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 30, 2021   15:34
मुश्ताक अली टी20 फाइनल: तमिलनाडु का पलड़ा बड़ौदा पर भारी

मुश्ताक अली टी20 फाइनल में तमिलनाडु का पलड़ा बड़ौदा पर भारी रहा।हिमाचल प्रदेश के खिलाफ तमिलनाडु भी संकट में थी लेकिन शाहरूख खान की शानदार बल्लेबाजी और बाबा अपराजित की संयमित पारी ने उसे जीत दिलाई। अनुभवी के बी अरूण कार्तिक ने राजस्थान के खिलाफ 89 रन की उम्दा पारी खेली।

अहमदाबाद। अनुभवी खिलाड़ियों से भरी तमिलनाडु की टीम का सामना सैयद मुश्ताक अली टी20 क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल में रविवार को बड़ौदा से होगा जिसने मैदान से बाहर के विवादों को भुलाकर शानदार प्रदर्शन किया है। दिनेश कार्तिक की कप्तानी वाली तमिलनाडु टीम में युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का मिश्रण है। ग्रुप चरण से अब तक उसने कई बड़ी जीत दर्ज की है और टीम में कोई परेशानी नजर नहीं आई। दूसरी ओर केदार देवधर की कप्तानी में बड़ौदा ने कई एकतरफा मैच जीते। इसके अलावा हरियाणा को रोमांचक क्वार्टर फाइनल में हराया जिसमें विष्णु सोलंकी ने आखिरी गेंद पर हेलिकॉप्टर शॉट खेलकर जीत दिलाई थी। बड़ौदा का प्रदर्शन इसलिये भी अधिक प्रशंसनीय है क्योंकि उसके शीर्ष बल्लेबाज दीपक हुड्डा कप्तान कृणाल पंड्या से मतभेदों के कारण टीम छोड़कर चले गए थे। बाद में अपने पिता के निधन के कारण कृणाल को भी जाना पड़ा।

इसे भी पढ़ें: लगातार दूसरे मैच में अर्जेंटीना ने भारतीय महिला हॉकी टीम को हराया

हिमाचल प्रदेश के खिलाफ तमिलनाडु भी संकट में थी लेकिन शाहरूख खान की शानदार बल्लेबाजी और बाबा अपराजित की संयमित पारी ने उसे जीत दिलाई। अनुभवी के बी अरूण कार्तिक ने राजस्थान के खिलाफ 89 रन की उम्दा पारी खेली। सलामी बल्लेबाज एन जगदीशन (350 रन) ने सबसे ज्यादा रन बनाये हैं हालांकि उनके जोड़ीदार सी हरि निशांत अच्छी शुरूआत के बाद लय खो बैठे। कप्तान कार्तिक ने भी बड़ी पारी नहीं खेली है लेकिन लक्ष्य का पीछा करते हुए मध्यक्रम में उपयोगी योगदान दिया है। दूसरी ओर शाहरूख अच्छे प्रदर्शन को बरकरार रखकर अगले महीने आईपीएल के लिये नीलामी से पहले टीमों का ध्यान खींचना चाहेंगे। गेंदबाजी में बायें हाथ के स्पिनर आर साइ किशोर, लेग स्पिनर एम अश्विन और अपराजित पर बड़ी जिम्मेदारी होगी।

इसे भी पढ़ें: श्रीकांत और सिंधु लगातार हार के बाद नॉकआउट से लगभग बाहर

बड़ौदा अगर खिताब जीतती है तो छोटे प्रारूप में उसकी यह तीसरी राष्ट्रीय ट्रॉफी होगी। इसके लिये देवधर को अच्छी पारी खेलनी होीग जो अब तक 333 रन बना चुके हैं। उनके अलावा सोलंकी से भी बड़ी उम्मीदें रहेंगी जो सेमीफाइनल में नाकाम रहे थे। कार्तिक काकाडे के फॉर्म में लौटने से मध्यक्रम मजबूत हुआ है।गेंदबाजी में अतीत शेठ और लुकमान मेरीवाला ने प्रभावित किया है। बायें हाथ के स्पिनर भार्गव भट , निनाद राठवा और आफ स्पिनर कार्तिक काकाडे से भी उम्मीदें रहेंगी। मैच शाम सात बजे से शुरू होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।