क्या पंजाब किंग्स गेल या मलान से पारी का आगाज कराएगी? मयंक अग्रवाल ने दिया जवाब

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 3, 2021   13:16
  • Like
क्या पंजाब किंग्स गेल या मलान से पारी का आगाज कराएगी? मयंक अग्रवाल ने दिया जवाब

दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ हार के बाद अग्रवाल ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘यह (गेल या मलान से पारी का आगाज कराना) ऐसी चीज है जिसके बारे में हमें बात करनी होगी लेकिन इस समय हम अपनी रणनीति पर चल रहे हैं और हमने ठीक ठाक स्कोर खड़ा किया।

अहमदाबाद। पंजाब किंग्स के कार्यवाहक कप्तान मयंक अग्रवाल ने कहा कि उन्होंने लोकेश राहुल की गैरमौजूदगी में आक्रामक बल्लेबाज क्रिस गेल या डेविड मलान के उनके साथ पारी का आगाज करने की संभावना के बारे में अब तक चर्चा नहीं की है। नियमित कप्तान राहुल को आंत्रपुच्छ (अपेंडिसाइटिस)के उपचार के लिए सर्जरी की जरूरत है। उनके जल्द ही टीम से जुड़ने की संभावना कम है लेकिन टीम ने उम्मीद जताई कि मुंबई के अस्पताल में सर्जरी के बाद वह एक हफ्ते से 10 दिन के भीतर वापसी करेंगे। इंडियन प्रीमियर लीग का आयोजन जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में हो रहा है और अगर राहुल को छूट नहीं मिलती है तो उन्हें पृथकवास से गुजरना होगा और ऐसी स्थिति में वह 30 मई को खत्म होने वाले टूर्नामेंट से संभवत: पूरी तरह बाहर हो सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: पंजाब किंग्स को बड़ा झटका, KL राहुल की होगी सर्जरी; मयंक अग्रवाल करेंगे टीम की अगुवाई

रविवार रात दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ हार के बाद अग्रवाल ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘यह (गेल या मलान से पारी का आगाज कराना) ऐसी चीज है जिसके बारे में हमें बात करनी होगी लेकिन इस समय हम अपनी रणनीति पर चल रहे हैं और हमने ठीक ठाक स्कोर खड़ा किया। शायद हमने 10 रन कम बनाए।’’ अग्रवाल ने नाबाद 99 रन की पारी खेली लेकिन उनके साथी सलामी बल्लेबाज प्रभसिमरन सिंह सिर्फ 15 रन बना पाए। गेल (13) और मलान (26) ने क्रमश: तीसरे और चौथे नंबर पर बल्लेबाजी की। पंजाब की टीम ने छह विकेट पर 166 रन बनाए लेकिन टीम को सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा। अंतिम एकादश में विदेशी खिलाड़ियों में बदलाव करके मोइजेस हैनरिक्स जैसे आलराउंडर को नियमित मौका देकर टीम को संतुलन देने के बारे में पूछने पर अग्रवाल ने कहा, ‘‘इस बारे में हम भविष्य में विचार करेंगे। दिल्ली की बल्लेबाजी को देखते हुए हमें विकेट हासिल करने के लिए बेहतर गेंदबाजी करनी थी जो हम नहीं कर पाए। हम गेंदबाजों का समर्थन करते हैं कि वे हमारे लिए ऐसा करेंगे।’’ अग्रवाल ने कहा कि कप्तान की भूमिका निभाना मुश्किल नहीं है लेकिन स्वीकार किया कि इस जिम्मेदारी से खेल के प्रति रवैया बदलता है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept