IFFI के 51वें संस्करण का हुआ समापन, 'इनटू द डार्कनेस' के नाम रहा शीर्ष पुरस्कार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 25, 2021   09:16
  • Like
IFFI के 51वें संस्करण का हुआ समापन, 'इनटू द डार्कनेस' के नाम रहा शीर्ष पुरस्कार

सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार आई नेवर क्राई की पोलेंड की अभिनेत्री जोफिया स्टाफियेज के नाम रहा। तीन भारतीय फिल्में ब्रिज , ए डॉग एंड हिज मैन और थेन को अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता श्रेणी में नामित किया गया था।

पणजी। द्वितीय विश्वयुद्ध पर आधारित डेनमार्क की फिल्म इनटू द डार्कनेस  को शीर्ष पुरस्कार से नवाजे जाने के साथ ही रविवार को भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (इफ्फी) के 51वें संस्करण का समापन हो गया। एंड्रेस रेफ्न द्वारा निर्देशित इनटू द डार्कनेस में डेनमार्क पर नाजियों के कब्जे के दौरान लोगों की मुश्किलों और भावनात्मक उथल-पुथल को दर्शाया गया है। फिल्म के निर्देशक रेफ्न और निर्माता लेने बोरग्लम को पुरस्कार के रूप में 40 लाख रुपये की नकद धनराशि प्रदान की गई। हालांकि वे दोनों ही समारोह में मौजूद नहीं थे। 

इसे भी पढ़ें: मधुर भंडारकर ने ‘इंडिया लॉकडाउन’ की शूटिंग शुरू की, कोरोना के जख्मों पर आधारित है फिल्म 

सर्वश्रेष्ठ अभिनेता तथा निर्देशक का पुरस्कार ताइवान की फिल्म द साइलेंट फोरेस्ट के नाम रहा। इस फिल्म में बधिर का किरदार निभाने वाले ताइवानी अभिनेता जू चुआन लियू (17) को सिल्वर पीकॉक फॉर बेस्ट एक्टर जबकि चेन नियेन को एक स्कूल में दिव्यांग बच्चों के साथ होने वाले हृदय विदारक व्यवस्थागत यौन उत्पीड़न को दर्शाने के लिये सर्वश्रेष्ठ निर्देशक के पुरस्कार से सम्मानित किया गया। 

इसे भी पढ़ें: अक्षय की फिल्म ‘बच्चन पांडे’ की रिलीज डेट से उठा पर्दा, जानें किस कब देगी सिनेमाघर में दस्तक 

सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार आई नेवर क्राई की पोलेंड की अभिनेत्री जोफिया स्टाफियेज के नाम रहा। तीन भारतीय फिल्में ब्रिज , ए डॉग एंड हिज मैन और थेन को अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता श्रेणी में नामित किया गया था। इस श्रेणी में दुनिया भर की 15 फिल्मों को नामित किया गया था, हालांकि केवल ब्रिज ही स्पेशल मेन्शन पुरस्कार अपने नाम करने में कामयाब रही। भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के 51वें संस्करण के दौरान कुल 224 फिल्में दिखाई गईं। कोरोना वायरस संक्रमण के चलते इस बार समारोह का आयोजन हाईब्रिड मोड में किया गया था। यानी कुछ फिल्मों के सिनेमाघरों में और कुछ को ऑनलाइन माध्यमों से दिखाया गया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




ब्लैक पैंथर’ के हीरो चैडविक बोसमैन को मरणोपरांत ‘गोल्डन ग्लोब’ से किया गया सम्मानित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 1, 2021   14:34
  • Like
ब्लैक पैंथर’ के हीरो चैडविक बोसमैन को मरणोपरांत ‘गोल्डन ग्लोब’ से किया गया सम्मानित

चैडविक बोसमैन को मरणोपरांत ‘गोल्डन ग्लोब’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।अभिनेता डेनियल कालुआ को फिल्म ‘जूडस एंड द ब्लैक मसीहा’ के लिए ‘मोशन पिक्चर’ श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ सहायक भूमिका के लिए ‘ग्लोडन ग्लोब’ पुरस्कार मिला।

लॉस एंजिलिस (अमेरिका)। मशहूर फिल्म ‘ब्लैक पैंथर’ के अभिनेता चैडविक बोसमैन को मरणोपरांत ‘गोल्डन ग्लोब’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया। अभिनेता को 2020 में आई फिल्म ‘मा रेनीज ब्लैक बॉटम’ में निभाई उनकी लीवी ग्रीन की भूमिका के लिए सम्मानित किया गया है। बौसमैन का चार साल तक आंत के कैंसर से जूझने के बाद पिछले साल अगस्त में 43 साल की उम्र में निधन हो गया था। उन्हें ‘मोशन पिक्चर’ श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुति के लिए यह सम्मान दिया गया। बोसमैन की पत्नी सिमोन लेडवर्ड ने ‘जूम कॉल’ के जरिए अभिनेता की ओर से यह पुरस्कार स्वीकार किया। भावुक लेडवर्ड ने कहा, ‘‘ वह भगवान का शुक्रिया अदा करते। वह अपने माता-पिता का शुक्रिया अदा करते। वह अपने पूर्वजों का उनके मार्गदर्शन और उनके त्याग के लिए शुक्रिया अदा करते।’’

इसे भी पढ़ें: जावेद अख्तर मानहानि मामला: कंगना रनौत के खिलाफ जमानती वारंट जारी

फिल्म ‘ब्लैक पैंथर’ से विश्व स्तर पर लोकप्रियता हासिल करने वाले बोसमैन का यह पहला ‘गोल्डन ग्लोब’ पुरस्कार है। वहीं, अभिनेता जॉन बोयेगा को निर्माता स्टीव मैक्वीन की फिल्म सीरीज ‘स्मॉल एक्स’ के लिए टेलीविजन श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ सहायक भूमिका के लिए ‘गोल्डन ग्लोब’ पुरस्कार मिला। अभिनेता डेनियल कालुआ को फिल्म ‘जूडस एंड द ब्लैक मसीहा’ के लिए ‘मोशन पिक्चर’ श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ सहायक भूमिका के लिए ‘ग्लोडन ग्लोब’ पुरस्कार मिला। बोयेगा और कालुआ का भी यह पहला ‘ग्लोडन ग्लोब’ पुरस्कार है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




फिल्म ‘मिनारी’ ने हासिल किया सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्म का गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 1, 2021   12:48
  • Like
फिल्म ‘मिनारी’ ने हासिल किया सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्म का गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड

मिनारी’ ने सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्म का गोल्डन ग्लोब पुरस्कार जीता है।फिल्म में स्टीवन येउन, हान ये-री, अलान किम, नोएल काते चो, यून युह-जुंग और विल पैटन जैसे सितारों ने अभिनय किया है। ली आइजैक चुंग ने इसका निर्देशन किया है।

लॉस एंजिलिस। कोरियाई प्रवासी परिवार की कहानी को दर्शाती फिल्म ‘मिनारी’ ने सर्वश्रेष्ठ विदेशी फिल्म का गोल्डन ग्लोब पुरस्कार अपने नाम किया है। हालांकि फिल्म को विदेशी फिल्म की श्रेणी में शामिल करने को लेकर काफी विवाद भी हुआ। ग्लोब्स का आयोजन करने वाली संस्था हॉलीवुड फॉरेन प्रेस एसोसिएशन (एचएफपीए) को कई शख्सियतों की आलोचना का सामना करना पड़ा। उन्होंने आरोप लगाया कि अमेरिकी कंपनियों ए 24 और प्लान बी ने क्रमश: फिल्म का निर्माण और उसमें पैसा लगाया है।

इसे भी पढ़ें: प्रियंका चोपड़ा और अनुष्का को टक्कर देंगी आलिया भट्ट! एक्टिंग के बाद शुरू किया ये काम

फिल्म में स्टीवन येउन, हान ये-री, अलान किम, नोएल काते चो, यून युह-जुंग और विल पैटन जैसे सितारों ने अभिनय किया है। ली आइजैक चुंग ने इसका निर्देशन किया है। पुरस्कार जीतने पर फिल्मकारों ने ‘मिनारी’ की टीम का शुक्रिया अदा किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




राजशाही से अलग होने की प्रक्रिया बहुत मुश्किल थी: राजकुमार हैरी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 1, 2021   10:46
  • Like
राजशाही से अलग होने की प्रक्रिया बहुत मुश्किल थी: राजकुमार हैरी

हैरी ने ओफ्रा विनफ्रे को दिए साक्षात्कार के दौरान अपनी दिवंगत मां राजकुमारी डायना को याद किया, जिन्होंने राजकुमार चार्ल्स के साथ तलाक के बाद अपने लिए अलग रास्ता चुना।

लॉस एंजिलिस। ब्रिटेन के राजकुमार हैरी ने कहा है कि शाही जीवनशैली से स्वयं को अलग करने की प्रक्रिया उनके और उनकी पत्नी मेगन मर्केल के लिए बहुत मुश्किल थी। हैरी ने ओफ्रा विनफ्रे को दिए साक्षात्कार के दौरान अपनी दिवंगत मां राजकुमारी डायना को याद किया, जिन्होंने राजकुमार चार्ल्स के साथ तलाक के बाद अपने लिए अलग रास्ता चुना। उन्होंने कहा, ‘‘मेरे लिए यह बहुत राहत और खुशी की बात है, मैं अपनी पत्नी के साथ बैठकर आपसे यहां बात कर रहा हूं, क्योंकि मैं इसकी कल्पना भी नहीं कर सकता कि उनके (राजकुमारी डायना) लिए उन वर्षों में इस प्रक्रिया से अकेले गुजरना कितना मुश्किल रहा होगा।’’

इसे भी पढ़ें: मोहेंजो दारो के फ्लॉप होने के बाद बॉलीवुड से क्यों गायब हो गयी थी पूजा हेगड़े? अब बताई वजह

हैरी ने कहा, ‘‘यह हम दोनों के लिए इतना मुश्किल था कि इसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती, लेकिन कम से कम हम एक दूसरे के साथ थे।’’ इस साक्षात्कार को सीबीएस पर सात मार्च और इसके अगले दिन ब्रिटेन में प्रसारित किया जाएगा। साक्षात्कार की इस क्लिप में जब हैरी यह टिप्पणी कर रहे हैं, तो डायना की हैरी के साथ फोटो दिखाई दे रही है, जिसमें वह नन्हे हैरी को पकड़े हुए हैं। डायना का कार हादसे में गंभीर रूप से घायल होने के कारण 1997 में निधन हो गया था। हैरी और मेगन ने मार्च 2020 में स्वयं को शाही जीवन से अलग कर लिया था। बकिंघम पैलेस ने शुक्रवार को कहा था कि हैरी और मर्केल ब्रिटेन के शाही परिवार के कार्यकारी सदस्यों के तौर पर नहीं लौटेंगे।

इसे भी पढ़ें: आदर से शादी से पहले तारा सुतारिया के हाथ लगी एक और फिल्म! इस एक्टर के संग करेंगी रोमांस

हैरी की दादी महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की तरफ से जारी एक बयान में राजमहल ने कहा था कि राजकुमार और राजकुमारी ने महारानी को अपने निर्णय से अवगत कराया है। दोनों की राजशाही से नाता तोड़ने संबंधी घोषणा को एक साल पूरा होने वाला है। महारानी (94) ने निर्णय के बारे में उन्हें पत्र लिखा और कहा कि उनके नहीं लौटने पर उनकी सभी मानद सैन्य नियुक्तियां और राजशाही के पद शाही परिवार के अन्य कार्यकारी सदस्यों में वितरित कर दिए जाएंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept