मिस्र ने मीडिया और सोशल नेटवर्कों पर कड़े किए प्रतिबंध

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 20, 2019   16:01
मिस्र ने मीडिया और सोशल नेटवर्कों पर कड़े किए प्रतिबंध

हाल के वर्षों में मिस्र ने पत्रकारों की धरपकड़ का व्यापक अभियान शुरू किया है। इसके तहत दर्जनों मीडियाकर्मियों को जेल भेजा गया है और कुछ विदेशी पत्रकारों को देश से बाहर कर दिया गया है।

काहिरा। मिस्र के शीर्ष मीडिया नियामक ने मीडिया तथा सोशल नेटवर्क साइटों पर प्रतिबंधों को और कड़ा कर दिया है। अब वह ऐसे सोशल मीडिया अकाउंटों और वेबसाइटों को अवरुद्ध कर सकता है जिनसे राष्ट्र की सुरक्षा को खतरा प्रतीत होता हो। यह असंतोष को दबाने के लिए राष्ट्रपति अब्देल फतह अल सिसी की सरकार का नवीनतम कदम है।

हाल के वर्षों में मिस्र ने पत्रकारों की धरपकड़ का व्यापक अभियान शुरू किया है। इसके तहत दर्जनों मीडियाकर्मियों को जेल भेजा गया है और कुछ विदेशी पत्रकारों को देश से बाहर कर दिया गया है।

इसे भी पढ़ें: शिवसेना ने कसा तंज, बोले राजनीतिक नाटक में एक्सपर्ट है BJP

नए नियम सोमवार देर रात आधिकारिक राजपत्र में प्रकाशित किए गए जिनसे सुप्रीम मीडिया रेगुलेटरी काउंसिल को कथित फर्जी खबर वाली वेबसाइटों और सोशल मीडिया अकाउंटों को अवरुद्ध करने की शक्ति मिल गई है। इसके तहत ढाई लाख पाउंड (मिस्र के) का भारी भरकम जुर्माना भी लग सकता है। मिस्र के पत्रकारों ने इस कदम को असंवैधानिक करार दिया है। मुख्य नियामक मकराम मोहम्मद अहमद ने मुद्दे पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।