कांग्रेस में राष्ट्रपति बाइडेन के पहले संबोधन में हैरिस और पेलोसी ने रचा इतिहास

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 29, 2021   11:33
कांग्रेस में राष्ट्रपति बाइडेन के पहले संबोधन में हैरिस और पेलोसी ने रचा इतिहास

कांग्रेस में राष्ट्रपति बाइडेन के पहले संबोधन में हैरिस और पेलोसी ने इतिहास रच दिया है।हैरिस से जब संबोधन के लिए राष्ट्रपति के पीछे दो महिलाओं के बैठने के महत्व के बारे में पूछा गया तो उन्होंने संवाददाताओं से कहा यह “सामान्य” है।

वाशिंगटन। उपराष्ट्रपति कमला हैरिस और सदन की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी ने राष्ट्रपति जो बाइडेन के कांग्रेस के पहले संयुक्त सत्र के दौरान मंच साझा कर इतिहास रच दिया है। यह पहली बार है जब कांग्रेस को संबोधित करने के दौरान दो महिलाएं राष्ट्रपति के पीछे बैठीं। हैरिस (56) अमेरिकी उपराष्ट्रपति बनने वाली पहली भारतीय मूल की अमेरिकी तथा पहली अश्वेत महिला भी हैं। वह बुधवार रात को कांग्रेस के संयुक्त सत्र में दिए गए राष्ट्रपति बाइडन के पहले भाषण के दौरान उनके दाहिने तरफ बैठी नजर आईं।

इसे भी पढ़ें: जो बाइडेन का पहला औपचारिक संबोधन, अमेरिकियों से की कोविड-19 रोधी टीका लगवाने की अपील

वहीं, 81 वर्षीय पेलोसी जो 2007 में, सदन की अध्यक्ष बनने वाली पहली महिला थी, वह राष्ट्रपति के बाएं तरफ बैठीं दिखी। हैरिस से जब संबोधन के लिए राष्ट्रपति के पीछे दो महिलाओं के बैठने के महत्व के बारे में पूछा गया तो उन्होंने संवाददाताओं से कहा यह “सामान्य” है। वहीं, जब इस ऐतिहासिक क्षण के बारे में पेलोसी का नजरिया जानना चाहा तो उन्होंने एमएसएनबीसी से कहा, “यह समय की बात है।” पेलोसी ने अपने भाषण से कुछ वक्त पहले कहा, “यह काफी उत्साहित करने वाला है। और इतिहास रचना बहुत अच्छी बात है। यह समय की बात है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।