चुनाव की घोषणा के लिए इमरान खान ने पाकिस्तान सरकार को दिया 6 दिन का समय, कहा- फिर इस्लामाबाद लौटूंगा

imran khan
Google common license
निधि अविनाश । May 26, 2022 10:51AM
इमरान खान की इस आजादी मार्च के बाद से पाकिस्तान के बड़े शहरों की घेराबंदी की गई है। इस बीच पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने चेतावनी दी कि अगर छह दिनों के भीतर चुनाव की तारीखों की घोषणा नहीं की जाती है, तो वह एक बार फिर इस्लामाबाद आएंगे।

पाकिस्तान में सत्ता परिवर्तन के बाद हालात सुधरने की जगह और खराब होते हुए नजर आ रहे है। चुनाव की दोबारा मांग को लेकर इमरान खान अपने समर्थकों के साथ इस्लामाबाद पहुंचे जहां उन्होंने आजादी मार्च निकाला। इस आजादी मार्च को रोकने के लिए नवाज शरीफ की सरकार रेड जोन में बड़ी संख्या में सेना की तैनाती कर रही है। इमरान खान की इस आजादी मार्च के बाद से पाकिस्तान के बड़े शहरों की घेराबंदी की गई है। इस बीच पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने चेतावनी दी कि अगर छह दिनों के भीतर चुनाव की तारीखों की घोषणा नहीं की जाती है, तो वह एक बार फिर इस्लामाबाद आएंगे।

इसे भी पढ़ें: विमान ईंधन पर कर कटौती को लेकर फिलहाल कोई निर्णय नहीं: सूत्र

बुधवार को जैसे ही इमरान खान का आजादी मार्च शुरू हुआ, पंजाब, कराची और लाहौर में कई जगहों पर पार्टी कार्यकर्ताओं और पुलिसवालों के बीच झड़प हो गई। पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद हफीज ने ट्विटर पर शिकायत की कि लाहौर के पेट्रोल पंपों में ईंधन खत्म हो गया है और एटीएम में पैसे नहीं है। इस्लामाबाद में इमरान खान के प्रवेश करने से पहले शहर के  रेड ज़ोन की रक्षा के लिए सेना को बुलाया गया था।

इसे भी पढ़ें: अन्य बाजारों में संभावनाएं तलाश कर आपूर्ति व्यवस्था की चुनौतियों से निपटा जा सकता है: बिड़ला

जानकारी के लिए बता दें कि इस्लामाबाद गुरुवार को युद्ध का मैदान बन गया और इस प्रदर्शन में पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी छोड़े।पाकिस्तान के जियो न्यूज ने दावा किया कि पीटीआई समर्थकों ने उसके कार्यालय पर हमला किया जिसमें कुछ पत्रकार घायल हो गए। इमरान खान इस्लामाबाद पहुंचे और मार्च को संबोधित किया, जहां उन्होंने कहा कि अगर वह धरना देते हैं तो सरकार खुश होगी क्योंकि इससे उनकी पार्टी और पुलिस के बीच और झड़पें होंगी। उन्होंने कहा, "मैंने तय किया था कि जब तक सरकार विधानसभाओं को भंग नहीं कर देती और चुनाव की घोषणा नहीं कर देती, तब तक मैं यहां बैठूंगा, लेकिन पिछले 24 घंटों में मैंने जो देखा है, वे (सरकार) देश को अराजकता की ओर ले जा रहे हैं।" पीटीआई अध्यक्ष ने यह भी दावा किया कि झड़पों में उनकी पार्टी के पांच प्रदर्शनकारी मारे गए।

अन्य न्यूज़