भारत को उम्मीद, पाकिस्तान को अपनी हरकतों का अहसास होगा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 20, 2019   15:33
भारत को उम्मीद, पाकिस्तान को अपनी हरकतों का अहसास होगा

इससे पहले, पाकिस्तान ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के विमान को आइसलैंड के आधिकारिक दौरे के दौरान अपने हवाई क्षेत्र से उड़ान भरने की अनुमति देने से मना कर दिया था। विदेश सचिव विजय गोखले ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, यह दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है जहां एक देश ने दूसरे देश के राष्ट्राध्यक्ष या शासनाध्यक्ष को अपने वायुक्षेत्र से उड़ान भरने की अनुमति देने से इनकार कर दिया

नयी दिल्ली। भारत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिका दौरे के लिए उनके विमान को अपने हवाईक्षेत्र से गुजरने की अनुमति नहीं देने के पाकिस्तान के कदम को गुरूवार को दुर्भाग्यपूर्ण बताया और उम्मीद जतायी कि पाकिस्तान को अपनी हरकतों का अहसास होगा। पाकिस्तान ने ‘कश्मीर में मौजूदा स्थिति का हवाला देते हुए’ मोदी के विमान को अपने वायुक्षेत्र के इस्तेमाल की इजाजत देने से इनकार कर दिया था। 

इसे भी पढ़ें: मददगार चीन पाकिस्तान के पेशावर में खोलेगा वीजा ऑफिस

इससे पहले, पाकिस्तान ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के विमान को आइसलैंड के आधिकारिक दौरे के दौरान अपने हवाई क्षेत्र से उड़ान भरने की अनुमति देने से मना कर दिया था। विदेश सचिव विजय गोखले ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, यह दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है जहां एक देश ने दूसरे देश के राष्ट्राध्यक्ष या शासनाध्यक्ष को अपने वायुक्षेत्र से उड़ान भरने की अनुमति देने से इनकार कर दिया। यह पूछे जाने पर कि क्या भारत अंतरराष्ट्रीय नागर विमानन संगठन (आईसीएओ) जैसे वैश्विक मंच पर यह मुद्दा उठाएगा, गोखले ने कहा कि जहां तक किसी अंतरराष्ट्रीय संगठन में जाने की बात है, हम इसपर गौर करेंगे। 

इसे भी पढ़ें: अकबरुद्दीन ने की पाक की बेइज्जती, कहा- वह जितना नीचे झुकेगा, हम उतना ऊंचा उठेंगे

फिलहाल ऐसा करने का कोई इरादा नहीं है। लेकिन अगर वे आईसीएओ के नियमों का उल्लंघन करते हैं, तो हम इस पर विचार कर सकते हैं। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था कि इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायुक्त को पाकिस्तान के इस निर्णय से अवगत करा दिया गया है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में वर्तमान स्थिति, वहां भारत के रुख और अत्याचार के मद्देनजर हमने निर्णय किया है कि हम भारतीय प्रधानमंत्री की उड़ान के लिए हमारे वायु क्षेत्र का इस्तेमाल नहीं करने देंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।