आखिर क्यों उज़्बेकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति की बेटी को जेल भेजा गया?

the-daughter-of-the-former-president-of-uzbekistan-was-sent-to-jail
उज़्बेकिस्तान के सामान्य अभियोजक दफ्तर ने बुधवार को बताया कि गुलनार ताशकंद में अपनी बेटी इमान के घर में रहती थी लेकिन वह बार-बार अदालत की ओर से तय शर्तों का उल्लंघन कर रही थी।

ताशकंद। उज़्बेकिस्तान के दिवंगत राष्ट्रपति इस्लाम करीमोव की बेटी को नज़रबंदी की शर्तों को तोड़ने के आरोप में जेल भेज दिया गया है। अभियोजकों ने बुधवार को यह जानकारी दी। कभी हाई-प्रोफाइल राजनयिक और पोप सिंगर रही गुलनार करीमोवो को अपने पिता का उत्तराधिकारी बताया जाता था लेकिन उन्हें 2017 में धोखाधड़ी और धनशोधन के आरोपों में 10 साल जेल की सजा सुनाई गई। बहरहाल, पिछले साल एक अदालत ने उनकी सज़ा को कम करके पांच साल कर दिया था और जेल के बजाए नजरबंदी में सजा पूरी करने का आदेश दिया था।

इसे भी पढ़ें: विपक्ष मुझे हटाने का प्रयास कर रहा और मैं आतंक, गरीबी मिटाने की कोशिश कर रहा हूं: मोदी

उज़्बेकिस्तान के सामान्य अभियोजक दफ्तर ने बुधवार को बताया कि गुलनार ताशकंद में अपनी बेटी इमान के घर में रहती थी लेकिन वह बार-बार अदालत की ओर से तय शर्तों का उल्लंघन कर रही थी। अभियोजक दफ्तर ने बताया कि अदालत ने मंगलवार को आदेश दिया कि गुलनार अपनी बची हुई सजा जेल में पूरी करेंगी।

इसे भी पढ़ें: दिग्विजय सिंह की नरेंद्र मोदी को खुली चुनौती, अगर है दम तो मुझ पर दायर करो मुकदमा

हालांकि इसके अलावा कोई और जानकारी नहीं दी गई। गुलनार के स्विस वकील जी. मेनगेइट ने ट्विटर पर बताया कि उनकी 46 वर्षीय मुवक्किल को ताशकंद के उनके घर से जबरन ले जाया गया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़