दुनिया की कई बड़ी इमारतों की बत्ती रही गुल, मनाया गया ''Earth Hour''

the-light-of-many-big-buildings-in-the-world-are-off-celebrated-earth-hour
अर्थ आवर की शुरुआत सिडनी में 2007 में हुई थी। अर्थ आवर दुनिया के करीब 180 देशों में मनाया गया। अमेरिका में इस दौरान एम्पायर स्टेट बिल्डिंग की रोशनी को मद्धम कर दिया गया।

न्यूयॉर्क।जलवायु परिवर्तन की तरफ दुनिया का ध्यान आकर्षित करने के उद्देश्य से दुनिया के कई शहरों में स्थानीय समयानुसार रात को आठ बजकर 30 मिनट पर बत्ती बुझाकर ‘अर्थ आवर’ मनाया गया।

अर्थ आवर का प्रचार वर्ल्ड वाइल्डलाइफ फंड (विश्व वन्यजीव कोष) करता है। अर्थ आवर का मुख्य उद्देश्य संसाधनों के इस्तेमाल में किफायत बरतना, खास तौर पर जो कार्बन गैस का उत्सर्जन करते हैं और जिनकी वजह से ग्लोबल वार्मिंग की समस्या बढ़ती है। अर्थ आवर की शुरुआत सिडनी में 2007 में हुई थी। अर्थ आवर दुनिया के करीब 180 देशों में मनाया गया। अमेरिका में इस दौरान एम्पायर स्टेट बिल्डिंग की रोशनी को मद्धम कर दिया गया।

इसे भी पढ़ें: प्रिंस चार्ल्स और कैमिला ने क्यूबा की पहली आधिकारिक यात्रा शुरू की

इसके अलावा हांग-कांग में भी कई इमारतों की रोशनी को या तो बंद कर दिया गया या उन्हें मद्धम कर दिया गया।इस दौरान एफिल टावर की बत्ती भी बुझा दी गई। वहीं इटली में करीब 400 शहरों ने अर्थ आवर में हिस्सा लिया। 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़