International Highlights: अमेरिका की सत्ता संभालेंगी कमला हैरिस, पाक में विरोध प्रदर्शन तेज, पढ़ें अन्य बड़ी खबरें

International Highlights: अमेरिका की सत्ता संभालेंगी कमला हैरिस, पाक में विरोध प्रदर्शन तेज, पढ़ें अन्य बड़ी खबरें

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन नियमित ‘कोलोनस्कॉपी’ जांच कराने के लिए वाल्टर रीड नेशनल मिलिट्री मेडिकल सेंटर गये हैं और कुछ समय के लिए उन्होंने सत्ता उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को सौंप दी है। वहीं दूसरी ओर अमेरिकी अधिकारी ने बताया कि चीनी मिसाइल पूरी दुनिया का चक्कर लगाने के बाद वापस अपने देश लौट गई थी।

प्रभासाक्षी की खास खबरों में जानिए दिनभर की उन अंतर्राष्ट्रीय घटनाओं के बारे में जिनका सरोकार सीधे जनता से है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन नियमित ‘कोलोनस्कॉपी’ जांच कराने के लिए वाल्टर रीड नेशनल मिलिट्री मेडिकल सेंटर गये हैं और कुछ समय के लिए उन्होंने सत्ता उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को सौंप दी है। वहीं दूसरी ओर अमेरिकी अधिकारी ने बताया कि चीनी मिसाइल पूरी दुनिया का चक्कर लगाने के बाद वापस अपने देश लौट गई थी। पढ़िए विस्तार से सभी खबरों को...

राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अपनी सभी जिम्मेदारी कमला हैरिस को सौंपी, जानिए क्या है पूरा मामला

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन शुक्रवार को नियमित ‘कोलोनस्कॉपी’ जांच कराने के लिए वाल्टर रीड नेशनल मिलिट्री मेडिकल सेंटर गये और कुछ समय के लिए उन्होंने सत्ता उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को सौंप दी। बाइडन राष्ट्रपति के तौर पर पहली नियमित जांच के लिए शुक्रवार तड़के वाशिंगटन के उपनगरीय क्षेत्र स्थित मेडिकल सेंटर गये। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने बताया कि ‘कोलोनस्कॉपी’ के दौरान बाइडन ‘एनिसथीसिया’ के प्रभाव में रहेंगे, इसलिए उन्होंने अल्पकाल के लिए हैरिस को सत्ता सौंपी।

तलाक के शर्म से बचने के लिए Open Marriage में थे लॉर्ड माउंटबेटन और एडविना, नेहरू को लिखती थीं Love Letters

एडविना माउंटबेटन की वजह से नेहरू के चरित्र पर काफी उंगलियां भी उठीं थी। दोनों के बीच प्रेम संबंध के बारे में बहुत कुछ कहा गया है। नेटफ्लिक्स पर द क्राउन सीरीज में भी दोनों के रिश्ते के बार में कई खुलासे किए गए है। बताया जाता है कि, एडविना की बेटी पामेला ने माना था कि उनकी मां और नेहरू रिलेशनशिप में थे। पमेला के मुताबिक, उनकी मां और नेहरू ने एक-दूसरे के बीच एक गहरा रिश्ता था। कहा जाता है कि, लेडी माउंटबेटन और नेहरू ने एक-दूसरे को लंबे लव लेटर तक लिखते थे।

सेना की टारगेट किलिंग का शिकार हुए 2 छात्र? बलूचों के खिलाफ पाक में चलाए जा रहे दमन चक्र के खिलाफ विरोध प्रदर्शन तेज

बलूचिस्तान क्षेत्र में बलूच नागरिकों के लापता होने और प्रताड़ना का लंबा इतिहास रहा है। बलूचों के खिलाफ पाकिस्‍ताान में चलाए जा रहे दमन चक्र के खिलाफ लगातार आवाज उठती रहती है। लेकिन इस महीने की शुरुआत में विश्वविद्यालय परिसर से कथित रूप से अपहृत किए गए दो लापता छात्रों को खोजने में अधिकारियों के विफल रहने के बाद बलूचिस्तान विश्वविद्यालय के छात्रों ने एक बार फिर विरोध तेज कर दिया है।

भारत में चीन की कम्युनिज्म को फैलाना चाहते हैं जिनपिंग, इसके लिए हिंदी को बनाया हथियार

अभी ज्यादा दिन नहीं बीता था जब बीजिंग से ये खबर आई थी कि चीन की सत्ता पर पकड़ बनाए रखने के तहत सत्ताधारी पार्टी सीपीसी ने राष्ट्रपतिशी जिनपिंग की राजनीतिक विचारधारा को स्कूल-कॉलेज के पाठ्यक्रम में शामिल करने का फैसला किया था। अब चीन भारत में कम्युनिस्ट विचारधारा को फैलाने की तैयारी कर ली है। इसके लिए बकायदा जिनपिंग ब्रिग्रेड की तरफ से किताबों को हिंदी में प्रकाशित भी किया जा रहा है। इस किताब में चीन के शासन को लेकर उनके सिद्धांत पर प्रकाश डाला गया है।

चीनी हाइपरसोनिक मिसाइल ने लगाया पूरी दुनिया का चक्कर, किसी भी देश के पास नहीं है इसका तोड़

चीन किसी दिन अमेरिका पर अचानक परमाणु हमला कर सकता है। अमेरिकी सेना के दूसरे सबसे बड़े अधिकारी ने यह चेतीवनी दी है। आपको बता दें कि चीन ने हाइपरसोनिक मिसाइल टेस्ट किया था। जिसको लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है। अमेरिकी अधिकारी ने बताया कि चीनी मिसाइल पूरी दुनिया का चक्कर लगाने के बाद वापस अपने देश लौट गई थी। यह अमेरिका के लिए चिंता का विषय है।






Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...