अमेरिका ने मिलिशिया समूह पर की बड़ी कार्रवाई, इराक और सीरिया के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक

अमेरिका ने मिलिशिया समूह पर की बड़ी कार्रवाई, इराक और सीरिया के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक
प्रतिरूप फोटो

पेंटागन के प्रेस सचिव जॉन किर्बी ने बताया कि मिलिशिया समूह इराक और सीरिया के ठिकानों से अपना अभियान चलाते थे और यहां पर हथियारों को जखीरा भी था।

वॉशिंगटन। अमेरिका ने इराक और सीरिया के बीच सीमा के निकट ‘ईरान समर्थित मिलिशिया समूहों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले ठिकानों’ को निशाना बनाकर रविवार को हवाई हमला किया। प्राप्त जानकारी के मुताबिक मिलिशिया समूह इराक में इन ठिकानों का इस्तेमाल अमेरिकी बलों के खिलाफ मानवरहित यान से हमला करने के लिए कर रहे थे। अमेरिका ने सीरिया में दो और इराक के एक ठिकाने को निशाना बनाया। 

इसे भी पढ़ें: अमेरिका और इजराइल संबंधों की नयी शुरुआत! रोम में मुलाकात करेंगे दोनों देशों के विदेश मंत्री 

पेंटागन के प्रेस सचिव जॉन किर्बी ने बताया कि मिलिशिया समूह इराक और सीरिया के ठिकानों से अपना अभियान चलाते थे और यहां पर हथियारों को जखीरा भी था। अमेरिका ने इराक और सीरिया पर की गई एयरस्ट्राक को रक्षात्मक कार्रवाई करार दिया है।

जो बाइडेन ने दिया था हमले का निर्देश

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जॉन किर्बी ने बताया कि अमेरिका ने स्थिति बिगड़ने के जोखिम को कम करने के लिए और हमले रोकने की खातिर उचित और सोच-समझकर कार्रवाई की। उन्होंने कहा कि जो बाइडेन इस बात को लेकर स्पष्ट रहे हैं कि वह अमेरिकीकर्मियों की रक्षा के लिए कदम उठाएंगे। इराक में अमेरिकी हितों को निशाना बनाकर किए गए ईरान समर्थित समूहों के हमलों के मद्देनजर राष्ट्रपति ने इस तरह के हमलों को बाधित करने और रोकने के लिए सैन्य कार्रवाई का निर्देश दिया था। 

इसे भी पढ़ें: जॉर्ज फ्लॉयड की हत्या के मामले में डेरेक चौविन को 22 साल छह महीने जेल की सजा 

गौरतलब है कि जो बाइडेन ने पांच महीने में दूसरी बार इराक और सीरिया के मिलिशिया समूहों पर कार्रवाई की है। हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि इस एयर स्ट्राइक में कितने लोग मारे गए हैं।