कोरोना काल में 1700 किलो प्रसाद का घोटाला, पीताम्बरा पीठ प्रबन्धन पर गड़बड़ी के आरोप

Maa Pitambara Peeth temple Datia
दिनेश शुक्ल । Oct 30, 2020 9:49AM
श्रद्धालुओं का आरोप है कि मंदिर में जो निर्माण कार्य हो रहा है। उसमें तय बजट से अधिक खर्च किया जा रहा है, जिसकी प्रबंधन समीक्षा नही कर रहा है। साथ ही मंदिर में संचालित अन्य गतिविधियों में भी प्रबंधन के सदस्यगण मनमानी कर रहे है, जिन पर किसी का अंकुश नही है।

दतिया। मध्य प्रदेश के दतिया स्थित पीताम्बरा पीठ मंदिर के प्रबंधन पर श्रद्धालुओं द्वारा मंदिर में चल रहे निर्माण कार्य सहित अन्य गतिविधियों में गड़बड़ी किये जाने का आरोप लगाया गया है। श्रद्धालुओं ने पीठ के ट्रस्ट की अध्यक्ष औऱ राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया को पत्र लिखकर इसकी शिकायत की है।

इसे भी पढ़ें: शिवराज सिंह चौहान बोले यह चुनाव बदला लेने का चुनाव, लोगों ने बरसाए छतों से फूल

श्रद्धालुओं का आरोप है कि मंदिर में जो निर्माण कार्य हो रहा है। उसमें तय बजट से अधिक खर्च किया जा रहा है, जिसकी प्रबंधन समीक्षा नही कर रहा है। साथ ही मंदिर में संचालित अन्य गतिविधियों में भी प्रबंधन के सदस्यगण मनमानी कर रहे है, जिन पर किसी का अंकुश नही है। श्रद्धालुओं का आरोप है कि ट्रस्ट की अध्यक्ष वसुंधरा राजे सिंधिया इस मामले में हस्तक्षेप करके पूरे मामले की जांच कराए। श्रद्धालुओं का यह भी आरोप में कोरोना के दौरान लॉक डाउन में 1700 किलो प्रसाद के घोटाले आरोप की भी जांच ट्रस्ट के प्रबन्धन के पास विचाराधीन है जिस पर भी ट्रस्ट द्वारा कोई निर्णय नही लिए जाने पर प्रबन्धन की छवि खराब हो रही है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़