बिहार में Covid-19 के 174 नये मामले, संक्रमितों की संख्या 3,359 पहुंची

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 30, 2020   09:31
बिहार में Covid-19 के 174 नये मामले, संक्रमितों की संख्या 3,359 पहुंची

स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि अब तक ठीक हुए लोगों की संख्या 1,209 है, जबकि अब तक 72,256 नमूनों का परीक्षण किया गया है। सीवान के एक 62 वर्षीय व्यक्ति, जो मुंबई गए थे, को संक्रमित पाए जाने पर नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

पटना। बिहार में कोविड-19 के कारण मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर शुक्रवार को 19 हो गयी। यहां एक अस्पताल में इलाज के दौरान एक मरीज की मौत हो गई, जबकि भोजपुर और भागलपुर जिले के दो अन्य लोगों की मौत के बाद उनके नमूने की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। राज्य में 174 लोगों को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया, जिससे संक्रमण के कुल मामले 3,359 हो गए हैं। 

इसे भी पढ़ें: हजारों मजदूरों की मदद के बाद सोनू सूद ने केरल से 177 लड़कियों को कराया एयरलिफ्ट

स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि अब तक ठीक हुए लोगों की संख्या 1,209 है, जबकि अब तक 72,256 नमूनों का परीक्षण किया गया है। सीवान के एक 62 वर्षीय व्यक्ति, जो मुंबई गए थे, को संक्रमित पाए जाने पर नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अस्पताल अधीक्षक एन के सिंह ने बताया कि उसने आज दोपहर बाद अंतिम सांस ली। उन्होंने बताया कि व्यक्ति मधुमेह और उच्च रक्तचाप जैसी कई बीमारियों से पीड़ित था। भोजपुर जिले में कोविड-19 के कारण दूसरी मौत हुई है। 55 वर्षीय एक प्रवासी श्रमिक की 26 मई को मौत हो गई थी, जिसके नमूने की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव निकली है। बिहार के सभी 38 जिलों में कोविड-19 के मामले सामने आ चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़े के अनुसार, अभी तक 2,310 प्रवासी मजदूरों को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है, जो अन्य राज्यों से बिहार लौटे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।