छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में 32 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

32 Naxalites surrender
दिनेश शुक्ल । Oct 26, 2020 2:48PM
पुलिस ने बताया कि 32 नक्सलियों में से 19 बकेली गांव के रहने वाले हैं और चार कोरकोट्टी और उदेनार, टुमारीगुंडा और मतासी गांव के तीन-तीन व्यक्ति हैं। पुलिस ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए उनकी पहचान जाहिर नहीं की है।

रायपुर। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में रविवार को 32 नक्सलियों ने सामूहिक तौर पर आत्मसमर्पण किया है। इनमें चार नक्सली ऐसे भी है जिन पर कुल चार लाख रुपये का ईनाम था। दंतेवाड़ा के पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने बताया कि 10 महिलाओं समेत अन्य नक्सलियों ने बरसूर पुलिस थाने में यह कहते हुए आत्मसमर्पण किया कि वे जिला पुलिस के पुनर्वास अभियान से प्रभावित हैं और ‘खोखले’ माओवादी विचाराधारा से निराश हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि, "32 नक्सलियों में से 6 इनामी हैं। लोन वर्राटू (घर वापस आइए) अभियान में पिछले 3 महीनों में 150 नक्सलियों ने समर्पण किया है, इनमें से 42 इनामी नक्सली हैं। जबकि 50-60 लोग और समर्पण करना चाहते हैं।"

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में चुनाव प्रचार को लेकर हाई कोर्ट के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक

पुलिस ने बताया कि 32 नक्सलियों में से 19 बकेली गांव के रहने वाले हैं और चार कोरकोट्टी और उदेनार, टुमारीगुंडा और मतासी गांव के तीन-तीन व्यक्ति हैं। पुलिस ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए उनकी पहचान जाहिर नहीं की है। ये नक्सली दंडकारण्य आदिवासी किसान मजदूर संगठन, क्रांतिकारी महिला आदिवासी संगठन, चेतना नाट्य मंडली (माओवादियों की सांस्कृतिक शाखा) और जनताना सरकार समूह से हैं। आत्म समर्पण करने वाले नक्सलीयों पर पुलिस टीमों पर हमला करने, चुनाव का आयोजन करने से जुड़े अधिकारियों पर हमला करने और बारूदी सुरंग विस्फोट का आरोप है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़