खुद के रिकॉर्ड तोड़ रहा महाराष्ट्र, एक दिन में सर्वाधिक कोरोना के 5,318 मामले आए सामने

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 27, 2020   23:07
खुद के रिकॉर्ड तोड़ रहा महाराष्ट्र, एक दिन में सर्वाधिक कोरोना के 5,318 मामले आए सामने

अधिकारी ने बताया कि दिन में 4,430 लोगों को स्वस्थ होने के बाद छुट्टी दी गई जिससे ठीक हुए लोगों की संख्या 84,245 हो गई है। अब तक 8,96,874 लोगों की कोरोना वायरस संक्रमण के लिए जांच की गई है।

मुंबई। महाराष्ट्र में कोविड-19 के एक दिन में रिकॉर्ड 5,318 नये मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,59,133 हो गई जबकि मौत के 167 नए मामले सामने आने के साथ राज्य में महामारी से जान गंवाने वालों का आंकड़ा बढ़कर 7,273 हो गया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। प्रदेश के एक स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि एक दिन में सर्वाधिक मामले इससे पहले शुक्रवार को सामने आए थे जब 5,024 संक्रमित मरीज मिले थे। 

इसे भी पढ़ें: शरद पवार पर टिप्पणी करने वाले गोपीचंद पडलकर के खिलाफ FIR दर्ज, बताया था कोरोना 

अधिकारी ने बताया कि दिन में 4,430 लोगों को स्वस्थ होने के बाद छुट्टी दी गई जिससे ठीक हुए लोगों की संख्या 84,245 हो गई है। अब तक 8,96,874 लोगों की कोरोना वायरस संक्रमण के लिए जांच की गई है। अधिकारी ने बताया कि शनिवार को सामने आए मौत के 167 मामलों में से 86 मौत बीते 48 घंटों के दौरान हुईं जबकि अन्य की मौत पहले हुई थी। प्रदेश में लोगों के ठीक होने की दर 52.94 प्रतिशत है जबकि महामारी के कारण मृत्युदर 4.57 प्रतिशत है। 

इसे भी पढ़ें: कोविड-19 मरीजों के इलाज के लिए रेमडेसिवीर,फेविपिराविर खरीदेगी महाराष्ट्र सरकार 

अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में 5,65,161 लोग घर पर पृथकवास में हैं जबकि 36,925 संस्थागत पृथकवास में। मुंबई में शनिवार को संक्रमण के 1,402 नए मामले सामने आए जबकि पुणे में 429 और औरंगाबाद में 137 नए मरीज मिले। मुंबई महानगरीय क्षेत्र (एमएमआर) में ठाणे शहर में 410 नए मामले सामने आए जबकि कल्याण-डोंबिवली में 514 मामले मिले। मुंबई में ही 64 लोगों की मौत का मामला सामने आया। एमएमआर में शनिवार को सबसे ज्यादा 3,479 नए मामले सामने आए जिसके बाद इस क्षेत्र में संक्रमितों की कुल संख्या 1,15,385 हो गई।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।